दोबारा खुलेगी हत्या मामले की फाइल

धर्मशाला। पुलिस थाना जवाली के अंतर्गत पंचायत रजोल के गांव अनूही में दिनदहाड़े आईटीआई प्रशिक्षु के मर्डर मामले की जांच अब स्पेशल इवेस्टिगेशन यूनिट (एसआईयू) धर्मशाला करेगी। इससे पूर्व यह मामला एसएचओ जवाली के पास था। लेकिन तीन माह बाद भी हत्यारे का कोई सुराग नहीं मिल पाया। इस पर एसपी कांगड़ा ने यह मामला एसआईयू को सौंप दिया है। एसआईयू की टीम मंगलवार को जवाली पहुंचकर मामले की नए सिरे से छानबीन शुरू करेगी। एसआईयू के सब इंस्पेक्टर नेगी राम ठाकुर ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि एसआईयू मंगलवार को मामले के सिलसिले में जवाली जाएगी।

घटनाक्रम
16 नवंबर 2012 को पुलिस थाना जवाली के अंतर्गत गांव अनूही में तेजधार हथियार से आईटीआई प्रशिक्षु का मर्डर हुआ था। हत्या के बाद शव को पास के एक नाले में फेंक दिया गया। मृतक की पहचान काका राम (22) पुत्र सरनदास निवासी गांव अनूही के रूप में हुई। काका राम वारदात के समय अनूही से आईटीआई शाहपुर जा रहा था। वहीं गांव की एक महिला काफी देर बाद जब उस रास्ते से गुजरी तो उसने काका राम के शव को नाले देखा तथा गांव के ही एक युवक को मौके से भागते हुए देखा। हालांकि पुलिस टीमें आरोपी की तलाश में चंबा और दिल्ली का दौरा कर चुकी हैं। लेकिन अभी तक कोई कामयाबी नहीं मिल पाई है। लेकिन मामला एसआईयू के पास आने के बाद मामले की सुलझने की उम्मीद है।

Related posts