आजादी के बाद भी सड़क सुविधा से वंचित, चारपाई से बांधकर चार किमी पैदल चल गांव पहुंचाया शव

आजादी के बाद भी सड़क सुविधा से वंचित, चारपाई से बांधकर चार किमी पैदल चल गांव पहुंचाया शव

शिमला आजादी के 73 साल बाद भी हिमाचल के कई गांव सड़क सुविधा से वंचित हैं। इन्हीं में से एक है मंडी के सरकाघाट का रछोट गांव। जब भी कोई व्यक्ति बीमार होता है तो उसे चार किमी पैदल चारपाई पर उठाकर सड़क तक पहुंचाना पड़ता है। सालों से ग्रामीण चार किमी सड़क बनाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन इनकी सुनने वाला कोई नहीं है। सड़क के अभाव में हाल ही में महिला की अस्पताल में मौत हो गई। इसे गांव तक पहुंचाने के लिए ग्रामीणों को चार किमी…

Read More

विवाद न सुलझा तो टूट जाएगी 400 साल पुरानी परंपरा

विवाद न सुलझा तो टूट जाएगी 400 साल पुरानी परंपरा

मंडी/गोहर हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में देव कमरूनाग के गूरों (पुजारी) का विवाद न सुलझा तो चार सौ साल पुरानी परंपरा टूट जाएगी। विवाद न सुलझने पर बिना गूरों के ही देवता कमरूनाग की छड़ शिवरात्रि महोत्सव में लाई लाएगी। देवता समिति ने शुक्रवार को इसके आदेश जारी कर दिए हैं।  राजा अजबर सेन के समय सन 1705 से महाशिवरात्रि का आगाज देव कमरूनाग के मंडी पहुंचने के बाद ही होता है। गूर देव कमरूनाग के प्रतीक छड़ को मंडी के टारना मंदिर में स्थापित करते हैं। इसके बाद…

Read More

श्रम विभाग मंडी का पूरा स्टाफ एक साथ हटा दिया, जानिए वजह

श्रम विभाग मंडी का पूरा स्टाफ एक साथ हटा दिया, जानिए वजह

शिमला हिमाचल प्रदेश में श्रम विभाग मंडी का सारा स्टाफ एक साथ बदल दिया गया है। जिला श्रम अधिकारी सहित पूरे स्टाफ का तबादला होने से हड़कंप मचा हुआ है। बताया जा रहा है कि जलशक्ति मंत्री महेंद्र सिंह नाराज बताए जा रहे थे। ऐसे में मंत्री के निर्देशों के बाद ही सरकार की ओर से आदेश जारी होने की बात कही जा रही है। दूसरी ओर, यह भी दलील दी जा रही है कि इन सभी कर्मचारियों को एक ही स्थान पर जमे हुए काफी समय हो गया है।…

Read More

भाजपा के लिए मंडी और सिरमौर में जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी हासिल करना आसान नहीं

भाजपा के लिए मंडी और सिरमौर में जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी हासिल करना आसान नहीं

मंडी/नाहन (सिरमौर)  हिमाचल प्रदेश के मंडी और सिरमौर जिले में भाजपा के लिए जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष की कुर्सी हासिल करना आसान नहीं है। सीएम जयराम ठाकुर के गृह जिले मंडी में बहुमत के बावजूद जहां दोनाें पद हासिल करने के लिए पार्टी के भीतर ही जंग जारी हो गई है, वहीं भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप के जिले सिरमौर में भाजपा-कांग्रेस में बराबरी की टक्कर के बाद बाजी निर्दलीय पार्षद नीलम शर्मा मार सकती हैं। यहां सत्ता के लिए कम पड़ रहा एक नंबर हासिल करने के लिए कांग्रेस…

Read More

गोभी की कीमतें गिरने से किसान बेहाल, किसान से दो रुपये किलो बाजार में 20 से 25 रुपये दाम

गोभी की कीमतें गिरने से किसान बेहाल, किसान से दो रुपये किलो बाजार में 20 से 25 रुपये  दाम

नेरचौक (मंडी) हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में फूलगोभी के दाम लुढ़क गए हैं। शिमला में 20 से 25 रुपये बिकने वाली गोभी मंडी में दो रुपये किलो बिक रही है। पंचायत चुनावों के शोर के बीच मंडी जिले का किसान गोभी की कीमतें गिरने से किसान बेहाल है। बंपर पैदावार के चलते सब्जी मंडी में किसानों से गोभी की खरीद दो रुपये किलो तक पहुंच गई हैं। आलम यह है कि पैदावार खेतों में ही सड़कर तबाह हो रही है। किसानों का कहना है कि कमर तोड़ मेहनत के…

Read More

डिपो में मिले रिफाइंड तेल के पैकेट में निकला पानी

डिपो में मिले रिफाइंड तेल के पैकेट में निकला पानी

सुंदरनगर (मंडी) हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के सलापड़ सब डिपो में उपभोक्ताओं को अनुदान पर मिलने वाले रिफाइंड तेल के पैकेट में तेल की जगह पानी निकलने का मामला सामने आया है। शिकायत मिलने के बाद खाद्य आपूर्ति विभाग ने सैंपल भरे हैं। ऐसे में राशन डिपो के राशन की गुणवत्ता को लेकर सवाल खड़े हो गए हैं। डिपो होल्डर ने बताया कि इस तरह की शिकायत छह-सात उपभोक्ताओं की आई है। इस मामले की सूचना खाद्य आपूर्ति विभाग को दे दी गई है। हैरानी की बात यह है…

Read More

सबसे पहले संपूर्ण स्वच्छ पंचायत के तत्कालीन प्रधान का नाम मतदाता सूची से गायब

सबसे पहले संपूर्ण स्वच्छ पंचायत  के तत्कालीन प्रधान का नाम मतदाता सूची से गायब

गोहर (मंडी) वर्ष 2007 में हिमाचल प्रदेश में सबसे पहले संपूर्ण स्वच्छ पंचायत बनी गोहर विकास खंड की किलिंग पंचायत के तत्कालीन प्रधान टेक सिंह ठाकुर का नाम ही मतदाता सूची से गायब है। 20 वर्ष तक पंचायत का प्रतिनिधित्व कर चुके पूर्व प्रधान के परिवार में बहू के सिवाय किसी का भी नाम मतदाता सूची में नहीं है। पूर्व प्रधान ने उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर निर्वाचन आयोग की कार्यप्रणाली को चुनौती दी है। बता दें कि वर्ष 2007 में संपूर्ण स्वच्छता में गोहर विकास खंड की किलिंग…

Read More

पानी से होगा इंधन का विकल्प तैयार, पेट्रोल पंपों की तरह होंगे हाइड्रोजन ईंधन स्टेशन : शोधकर्ता अमित कुमार

पानी से होगा इंधन का विकल्प तैयार, पेट्रोल पंपों की तरह होंगे हाइड्रोजन ईंधन स्टेशन : शोधकर्ता अमित कुमार

मंडी अब पानी से न केवल हाइड्रोजन एनर्जी निकालकर भविष्य में इंधन का विकल्प तैयार होगा, बल्कि पानी में मौजूद हानिकारक प्रदूषण के घटक  भी खत्म होंगे। उद्योगों और खेतों में रासायनिक खादों और छिड़काव से पानी में मिलने वाले हानिकारक अपशिष्ट मिटाकर पानी फिर इस्तेमाल हो सकेगा। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के बैहना निवासी शोधकर्ता अमित कुमार ने यह कमाल कर दिखाया है। उन्होंने एक ऐसा फोटो कैटेलिस्ट (मैटीरियल) तैयार किया है, जिससे पानी में मौजूद प्रदूषित तत्व खत्म करके उसे हाइड्रोजन में बदलने और उसमें हाइड्रोजन निकालने…

Read More

किसानों को मिलेगा धान का प्रमाणित बीज

किसानों को मिलेगा  धान का प्रमाणित बीज

शिमला/मंडी हिमाचल के किसानों को अगले खरीफ मौसम में मंडी जिले में तैयार धान का सर्टीफाइड बीज मिलेगा। प्रदेश सरकार इस बीज का क्रय कर प्रदेश के किसानों को मुहैया करवाएगी। परमल बीज 2700 रुपये प्रति क्विंटल और मोटा चावल 2400 रुपये प्रति क्विंटल खरीदा जाएगा। प्रदेश में हर साल 74 हजार हेक्टेयर जमीन पर धान की पैदावार होती है। राज्य कृषि विभाग के अधिकारियों के अनुसार अभी तक पड़ोसी राज्य उत्तराखंड से धान का बीज मंगाते रहे हैं। हिमाचल के किसानों को हर साल सीजन में 200 क्विंटल धान…

Read More

#कैंसर, शुगर और हृदय रोग से बचाने में काले गेहूं पर रिसर्च, हिमाचल में ट्रायल शुरू

#कैंसर, शुगर और हृदय रोग से बचाने में काले गेहूं पर रिसर्च, हिमाचल में ट्रायल शुरू

गोहर (मंडी) हिमाचल में कैंसर, शुगर और हृदय रोग से बचाने में सहायक काले गेहूं की खेती भी हो सकेगी। ऊना जैसे मैदानी इलाके में काले गेहूं को उगाने का प्रयोग सफल रहा है। अब मंडी के गोहर के ऊंचे पर्वतीय क्षेत्रों में इसका ट्रायल शुरू किया गया है। इसके प्रारंभिक परिणाम बेहद सकारात्मक रहे हैं। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एग्रो फूड बायोटेक्नोलॉजी इंस्टीट्यूट चंडीगढ़ हिमाचल में इस बीज पर शोध कर रहा है। इसमें जोगिंद्रनगर स्थित आयुर्वेदिक क्षेत्रीय संस्थान भी अहम भूमिका निभा रहा है। इससे पहले  ऊना जिले के…

Read More