अमरनाथ यात्रा रद्द: उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा- लोगों का स्वास्थ्य सबसे पहले

अमरनाथ यात्रा रद्द: उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा- लोगों का स्वास्थ्य सबसे पहले

जम्मू अमरनाथ यात्रा इस बार भी नहीं होगी। कोरोना वायरस के चलते उप-राज्यपाल सरकार ने यात्रा को रद्द करने का फैसला लिया है। उप-राज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि लोगों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना प्राथमिकता है। पिछले साल की तरह छड़ी यात्रा के साथ केवल पारंपरिक पूजन ही होगा। पवित्र गुफा से बाबा बर्फानी की आरती का प्रसारण किया जाएगा। कोरोना संक्रमण को देखते हुए श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने यात्रा न कराने का फैसला किया है। हालांकि, सभी पारंपरिक पूजन पहले ही की तरह होंगे। छड़ी निकलेगी और ज्येष्ठ पूर्णिमा के…

Read More

जवानों ने बर्फीली चोटियों पर किया योग, देखें गलवां और पैंगांग झील का नजारा

जवानों ने बर्फीली चोटियों पर किया योग, देखें गलवां और पैंगांग झील का नजारा

जम्मू भारतीय-तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों ने सातवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सोमवार को लद्दाख में बर्फीली चोटियों के बीच योग किया। उन्होंने पैंगांग झील और गलवां घाटी के पास भी योग के कई आसन किए और दुनिया को इसकी अहमियत का संदेश दिया। नौ राज्यों में शुरू होंगे 25 फिट इंडिया योग केंद्र  केंद्रीय खेल मंत्री और आयुष मंत्रालय के मंत्री किरेन रिजिजू ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से पहले नौ राज्यों में 25 फिट इंडिया योग केंद्र शुरू करने की घोषणा की। रिजिजू ने रविवार को बताया,…

Read More

बारामुला में आतंक पर प्रहार नार्को टेरर मॉड्यूल का भंडाफोड़, आतंकियों के 12 मददगार गिरफ्तार

बारामुला में आतंक पर प्रहार नार्को टेरर मॉड्यूल का भंडाफोड़, आतंकियों के 12 मददगार गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर के बारामुला में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। यहां नार्को टेरर मॉड्यूल का भंडाफोड़ हुआ है। जिसमें आतंकियों के 12 मददगारों को गिरफ्तार किया गया है। जिनके पास से हेरोइन के 11 पैकेट, चार पिस्टल, कई मैग्जीन, बीस कारतूस और एक लाख रुपये की चेक बरामद हुुई है। हेरोइन की कीमत 21.5 लाख रुपये बताई जा रही है। बता दें कि पुलिस को आतंकियों के मददगारों के सक्रिय होने की सूचना मिली थी। जिसके आधार पर पुलिस, सेना और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने अभियान शुरू किया। इस…

Read More

पीएम मोदी ने 24 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक, पढ़ें कांग्रेस समेत इन दलों की प्रतिक्रिया

पीएम मोदी ने 24 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक, पढ़ें कांग्रेस समेत इन दलों की प्रतिक्रिया

जम्मू केंद्र सरकार इस महीने 24 जून को जम्मू-कश्मीर की सभी क्षेत्रीय पार्टियों के साथ बातचीत करेगी। जिसमें नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला, पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती, जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी के अल्ताफ बुखारी, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के मुखिया सज्जाद लोन को बुलाए जाने की चर्चा है। सरकार के इस फैसले के बाद प्रदेश में सियासी सरगर्मी तेज हो गई है। बैठक में शामिल होने को लेकर नेशनल कॉन्फ्रेंस प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि अभी तक हमें बातचीत के लिए दिल्ली से कोई औपचारिक निमंत्रण नहीं मिला है। अगर हमें कोई निमंत्रण…

Read More

सियासी हलचल : जम्मू-कश्मीर में बदलाव की चर्चा, दिल्ली पहुंचे अब्दुल्ला

सियासी हलचल : जम्मू-कश्मीर में बदलाव की चर्चा, दिल्ली पहुंचे अब्दुल्ला

जम्मू जम्मू-कश्मीर में पिछले कुछ दिनों से सियासी खिचड़ी पक रही है। केंद्र से कश्मीर आधारित पार्टिर्यों के नेताओं की ट्रैक-2 पर बातचीत चल रही है। नेशनल कांफ्रेंस प्रमुख डॉ. फारूक अब्दुल्ला के हालिया बयान कि पार्टी परिसीमन के खिलाफ नहीं है और केंद्र से बातचीत के सारे विकल्प खुले हुए हैं के कई मायने निकाले जा रहे हैं। फारूक के बयान के अगले ही दिन वीरवार को उमर अब्दुल्ला के दिल्ली पहुंचने से सियासी सरगर्मी को और बल मिला है। इसे परिसीमन तथा विधानसभा चुनाव से भी जोड़कर देखा…

Read More

लद्दाख में विशेषाधिकार : अब स्थानीय को ही सरकारी नौकरी, रोजगार अधीनस्थ सेवा भर्ती नियम 2021 की अधिसूचना जारी

लद्दाख में विशेषाधिकार : अब स्थानीय को ही सरकारी नौकरी, रोजगार अधीनस्थ सेवा भर्ती नियम 2021 की अधिसूचना जारी

जम्मू/लेह केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में अब सरकारी नौकरी सिर्फ स्थानीय लोगों लद्दाखियों को ही मिलेगी। लंबे अरसे से उठ रही मांग के बाद लद्दाख प्रशासन ने लद्दाख रोजगार (अधीनस्थ) सेवा भर्ती नियम 2021 की अधिसूचना जारी कर दी है। इन नियमों के लागू होने पर लद्दाख में सरकारी नौकरी केवल लद्दाख के स्थानीय निवासी को ही मिलेगी। हालांकि जम्मू-कश्मीर कैडर से लद्दाख में पहले से तैनात कर्मचारी को नए नियमों के तहत स्थानीय ही माना जाएगा।  लद्दाख प्रशासन ने एसओ संख्या 16 के तहत यह अधिसूचना जारी की है।…

Read More

खुलेगी बनिहाल-काजीगुंड टनल, जम्मू से श्रीनगर की 16 किमी घटेगी दूरी

खुलेगी बनिहाल-काजीगुंड टनल, जम्मू से श्रीनगर की 16 किमी घटेगी दूरी

जम्मू जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे पर 8.5 किलोमीटर लंबी बनिहाल-काजीगुंड टनल बनकर तैयार हो गई है। फिलहाल अत्याधुनिक उपकरणों की जांच प्रक्रिया जारी है, इसके पूरा होते ही टनल को इस माह के अंत तक आम यातायात के लिए खोल दिया जाएगा। ऑस्ट्रियन टनलिंग मेथड से बनाई गई टनल में निर्माण कंपनी को ट्रैफिक के ट्रायल रन की अनुमति मिल गई है। यह टनल जम्मू-श्रीनगर हाईवे के मौजूदा 270 किलोमीटर लंबे फासले को 16 किलोमीटर कम करेगी। साथ ही हर मौसम में यातायात संभव होगा।   2100 करोड़ रुपये की लागत…

Read More

आतंक के गढ़ रहे इलाकों से सरहद तक अमन की बयार

आतंक के गढ़ रहे इलाकों से सरहद तक अमन की बयार

उड़ी (बारामुला) कश्मीर की आबोहवा बदल रही है। आतंक के गढ़ रहे इलाकों से सरहद तक अमन की बयार बहने लगी है। अब सड़कों पर न पत्थरबाज दिखते हैं और न ही राष्ट्र विरोधी प्रदर्शन करने वाले। गांवों-शहरों में सरकारी इमारतों से लेकर सरहद तक तिरंगा फहर रहा है। आतंकवाद को दरकिनार कर युवा पीढ़ी काम धंधे में जुटने लगी है।  हालांकि, कुछ इलाकों में आतंकी घटनाएं हो रही हैं, लेकिन सुरक्षा बलों के सख्त रुख के चलते ज्यादातर आतंकी व उनके मददगार गायब होने लगे हैं। बदले हालात में…

Read More

संघर्ष विराम जारी है, जिसे सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर : सेना अध्यक्ष नरवणे

संघर्ष विराम जारी है, जिसे सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर : सेना अध्यक्ष नरवणे

जम्मू भारत-पाकिस्तान के बीच हुए संघर्ष विराम समझौते के सौ दिन होने पर सेना अध्यक्ष एमएम नरवणे ने कहा कि अगर स्थिति अनुमति देती है तो जम्मू-कश्मीर में सैनिकों की कमी संभव है। फिलहाल संघर्ष विराम जारी है। जिसे सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी पाकिस्तान पर है। बता दें कि सेना अध्यक्ष एमएम नरवणे बुधवार को दो दिवसीय कश्मीर दौरे पर पहुंचे। हालात का जायजा लेने के बाद सेना अध्यक्ष ने सुरक्षा और कोरोना महामारी के मोर्चों पर डटे जवानों की पीठ थपथपाई। साथ ही कहा कि सुरक्षा हालात में बेहतरी के लिए प्रशासन, सेना व…

Read More

ट्रांसपोर्टर 50 फीसदी यात्रियों के साथ बसें चलाने को तैयार नहीं

ट्रांसपोर्टर 50 फीसदी यात्रियों के साथ बसें चलाने को तैयार नहीं

जम्मू जम्मू, उधमपुर, कठुआ, सांबा समेत प्रदेश में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो गई, लेकिन मेटाडोर बसें सड़कों से गायब हैं। ट्रांसपोर्टर सरकार द्वारा तय 50 प्रतिशत यात्री क्षमता के साथ परिचालन शर्त मानने को तैयार नहीं हैं। ट्रांसपोर्टर सरकार से 50 प्रतिशत यात्री किराया बढ़ाने की मांग कर रहे हैं, जबकि सरकार इस महामारी में लोगों पर अतिरिक्त बोझ नहीं डालना चाहती है। सोमवार को मिनी बस यूनियन के अध्यक्ष विजय चिब ने कहा कि हम 50 प्रतिशत यात्री क्षमता के साथ परिचालन के लिए तैयार नहीं हैं। उन्होंने…

Read More