सेंक्चुरी एरिया से हटेंगे जिले के 318 गांव

चंबा। फारेस्ट सेंक्चुरी एरिया से आबादी वाले क्षेत्र बाहर करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद वन्य प्राणी विभाग ने जिले के सेंक्चुरी एरिया में आने वाले गांवों की लिस्ट जारी कर दी है। इसके लिए लगभग सारी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं। अंतिम अधिसूचना जारी होना बाकी है। जानकारी के मुताबिक खजियार रिजर्व सेंक्चुरी से सबसे ज्यादा 261 गांव बाहर होंगे। तुंदाह सेंक्चुरी से 32 और सेचु एरिया से 18 गांवों के दिन फिरने वाले हैं। वन्य प्राणी विभाग के डीएफओ राकेश कुमार ने बताया कि विभाग द्वारा सेंचुरी एरिया के दायरे में आने वाले और बाहर होने वाले गांवों की सूची जारी कर दी है। उन्होंने कहा कि इस पर सरकार की अंतिम मुहर बाकी है।
सेंक्चुरी एरिया से बाहर होने वाले गांवों में ग्राम पंचायत सुनूह के सुनूह, गगल, केंथली, अड़ाप, डंडोड़ी, डुगली व भद्रोह ग्राम पंचायत भांदल के जसोह, थरोली, जंदोर, मंडोग, थाट, जलाड़ी, संघनी, करवाड़, संघनेड, पुथियाल, कोलोई, भड़ेई, पथवाल, सगोडी, सून, प्रध, चंडू, धमोगी, चनेटी, किंसालू, डडरी, प्रियंगुल, दिगोड़ी, खनेई, ग्राम पंचायत खजियार के गांव डरोल, गोथालु, रोता, चोरुई, खजियार, भत्तल, बेंसका, द्रमण के डडोथा, रिखानबेई जगडूई, चंबी, घागनी, परेल, सिंगी पंचायत के गुमेली, फतेहपुर, सहलाणू, सुक्रनी, द्रमता, धारेई, नुई, बेंसका, मिहिला, गनोड़ी, सिंगी, रेह, शागुई, डडोगा, भागड़ी, कल्यूना, गोथा, बडी, द्रबड़, कोट दि बेही, नोडा, बंगोटू, चनेड, टकटोला, धापरी, डेहडी, भलोली, लिडबदरा, भुजा दा ढिमा, चलेही और पुखरी, साच पंचायत के कुपाड़ा, दिवकारी, नाडुंई, अच्छला, कुपरी, तड़ोली, खुनेर, जनोता, पधरेटी, साच, किलुहानी, टिपरा, बसोधन के कथयाड, गड़बेई, चौनाला, पधरोटू, बसोधन,तलाई, छजोटी, मंजीर, देवीदेहरा, सुनेड, रठियार पंचायत के भालोली, तलाई, रखेला, फाट, चांजुई, डुगली, भंगबेई, खबेर, मियाड़ी, लाहगा, दियोली, खालसा, मियाड़ी, चांडू, रंडोह, जलेई, गेट, बड़ी, सोह, रठियार, मंदरानी, कोहलड़ी के ककेला, लुधाड़ी, लिंडीबेही, भगरोता, डिबरी, पखरोग, कसियाड़, फाटी, बेही, खबेर, डुघ, कोहलड़ी, क्रचेड, कुन्ना, चील बंगला के धमरोटा, ररियाड़ा, चेली, घ्रानु, चालगा, कनियारु, धर दो, टोपला, ढांपू, चाहला, शुक्रही, पंजोह पंचायत के चपड़ोल, कुपाड़ी, कुट, पंजोह, मल्लाह, गालु, कुडनू,, पंचायत ओसल के गुनियाला, रिखनाली, कफरोटी, रेह, भीखनु एंड लोहली, भटोली, चमलाड़ी, खडकड़ी, ओसल पंचायत का सिया, गुटाडी, गरगडा, टिकरु, मधियाड़, लुहानी, तवेला, द्रबड, गोली, मनोला, पंचायत द्रबड़ के मडियाणका, खनियारु, प्रथुडा, द्रडा, धार, गुन्नु, टिपरी, प्रालो, धाट, डुग, खेला, सरु, कुथार, पुखर, ठेडु, हुजारा, परिहार, मुखरेटी, सानुईं, नकलीका, छन्नी लाहड़, चमीणू कोटा, रोना, भड़ोली, साजुईं, नदुंईं, छन्न, गदियाड़, दयालु, धरोटी, मधारका, वयारा, ठुकराला, द्रबड़, उडालका, मुनियारा, कथल, लिली, सुधाली, भमनिका, लडोट, कथुईं, करोटी, धनेटा, कडोट, डडर, पोलटा, हडोथा, कुन्ना, ताला, टिकर, भड़ियां, चिहाली, लंगाला, सालगा, सेरु, खबर, खालसा, देहरा, सपड़ी, चंबा, पदर, सदी, बेई, डोलु, चनेड, लुमुथ, धरमुरी, बसन, पठंकरी, गदियाड़, द्रमण, उदयपुर के तड़ोली, ढंापू, धरनियाड़, उदयपुर, घोल्टी, चिकड़ियानी, जुम्हार, बढ़न, चिम्हा, डुल्ला, पंचायत धनेई के टिक्कर, सुरेई, डारु, तुना, कुपाड़ा, रिंडा के रिंडा, दरवा, ओडा, लालींह, खोली, कुट, टिकर, दुआरु, फतेहपुर, सिमली, रोडी, भुनका, परगाना, पंचायत पधरोटू के टिकर, मलोता, भगोड़ी, डडून, लोहली खड्ड, निहारु, धरमानु और कालाटोप, पंचायत सेचू के चास्क भटोरी, चास्क, सेचू, सूंह के उदीन संधारी और हिल्लु तुआं गांव हैं।
सेंक्चुरी एरिया तुंदाह से बाहर हुए गांवों में भद्रा, बनी, मुंडाह, कुम्हारकड़ी, सिलपाड़ी, भद्रम, खंबुग, पंचायत बड़ग्रां के कुथल, लाहड़ोगी, मोरठु, चुलार, तुंदाह गोर, सुल्लु, बनाड़, पलूनी, सरनोथा, कुठार, कुगती सेंचुरी एरिया से बाहर हुए गांवों में अप्पर और लोअर कुगती शामिल हैं।

सेंचुरी में शामिल गांवों की सूची
खजियार का मटूनू और खजियार शाप, ग्राम पंचायत भांदल का खदरोगा व सेचू पंचायत का मर्च गांव सेंक्चुरी एरिया में शामिल हुआ है।

Related posts