बीकॉम तृतीय वर्ष के प्रश्नपत्र में गलती

मैड़ी (ऊना)। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय की ओर से ली जा रही बीकॉम तृतीय वर्ष की परीक्षा के दौरान प्रश्नपत्र में त्रुटि ने विद्यार्थियों को दुविधा में डाले रखा। प्रश्नपत्र में संक्षिप्त व्याख्या के लिए आए प्रश्न संख्या-1 के डी भाग में जहां अंग्रेजी में इंटरनल कंट्रोल की व्याख्या के लिए कहा गया है तो हिंदी में आंतरिक अंकेक्षण अर्थात इंटरनल ऑडिट की व्याख्या के लिए कहा गया। जिससे दो नंबर के इस प्रश्न के कारण विद्यार्थी कुछ देर तो यही सोचते रहे कि हिंदी वाले प्रश्न का उत्तर दें अथवा अंग्रेजी वाले का। इस पर कई विद्यार्थियों ने यही हल निकालना उचित समझा कि हिंदी मीडियम वाले हिंदी का और इंग्लिश वाले इंग्लिश प्रश्न का उत्तर दें। लेकिन, कई विद्यार्थियों ने दुविधा में ही समय नष्ट किया। महाराणा प्रताप राजकीय महाविद्यालय अंब के विद्यार्थियों राहुल शर्मा, मोहित शर्मा, सुरेंद्र कुमार, अश्विनी कुमार का कहना है कि प्रश्नपत्र में त्रुटि के कारण विद्यार्थियों ने जिस प्रश्न का उत्तर दिया है, उन्हें उसके आधार पर ही अंक दिए जाने चाहिए।

Related posts