किन्नौर घाटी से 46 लोग पहुंचे रामपुर

रामपुर बुशहर। किन्नौर घाटी में फंसे छात्रों और मरीजों को वीरवार को रामपुर लाया गया। इन लोगों में तीन गर्भवती महिलाएं भी शामिल हैं। इसके अलावा रामपुर में फंसे स्कूली छात्राें और अन्य सरकारी कर्मचारियों को नाको और पूह में छोड़ा गया। इसके लिए रामपुर से दो उड़ानें भरी गईं।
भारी बर्फबारी के चलते किन्नौर में फंसे लोगों को वीरवार को थोड़ी राहत मिली। वीरवार को रामपुर से नाको, लियो और पूह के लिए दो उड़ानें भरी गईं। इस दौरान पूह से बीस और नाको तथा लियो से 26 लोगाें को रामपुर लाया गया है। इनमें अधिकांश स्कूली छात्र शामिल हैं, जबकि कुछ मरीज भी रामपुर पहुंचाए गए हैं। इसके अलावा रामपुर से भी नाको, लियो और पूह के लिए 41 लोगों को हेलिकाप्टर के माध्यम से भेजा गया है। इनमें किन्नौर के स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के अलावा सरकारी कर्मचारी और अन्य लोग शामिल हैं। इन सभी लोगों ने प्रदेश सरकार से हेलिकाप्टर की मांग की थी। इसके आधार पर वीरवार को रामपुर से किन्नौर के लिए दो उड़ानें भरी गईं। एसडीएम रामपुर दलीप नेगी ने बताया कि लोगों की मांग के चलते वीरवार को रामपुर से किन्नौर के लियो, पूह और नाको के लिए दो उड़ानें भरी गई थीं। इसमें 41 लोगों को किन्नौर भेजा गया, जबकि किन्नौर से 46 लोग रामपुर पहुंचाए गए हैं।

Related posts