सड़क हादसे में दस लोग घायल

ठियोग (शिमला)। ठियोग से क्यारटू की ओर जा रही एक बोलेरो जीप कीट नामक स्थान के पास अचानक अनियंत्रित होकर करीब पचास फीट खाई में जा गिरी। जीप में सवार एक ही गांव के दस लोग बुरी तरह घायल हो गए। जीप में सवार अनिल कुमार (29), सुरती देवी, राहुल (10), बुिद्ध राम (60), रेखा (21), बिमला (50), संजय कुमार (15), प्रताप सिंह तथा माहौरी की मुनी देवी घायल हुए हैं। पुलिस एवं स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को सिविल अस्पताल पहुंचाया गया। अस्पताल में इमरजेंसी में तैनात डाक्टर ने घायलों का उपचार किया। इस हादसे में बुरी तरह घायल हुए दो लोगों को शिमला आईजीएमसी रेफर कर दिया गया। पुलिस जानकारी के मुताबिक गाड़ी नंबर एचपी 63-1197 को चालक अमर जीत सिंह उर्फ मियां चला रहा था, जो घटना स्थल से फरार है। डीएसपी सागर चंद शर्मा ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि सभी लोग ठियोग से अपने गांव की ओर जा रहे थे।
दुर्घटना की खबर मिलते ही मौके पर घायलों का हाल जानने के लिए तहसीलदार जीत राम भी पहुंच गए। इस अवसर पर प्रशासन की ओर से घायलों को एक से तीन हजार रुपये की मदद प्रदान की गई।
अचानक हुए इस हादसे ने सिविल अस्पताल की पोल खोल दी। इस घटना में लाए क रीब दस घायलों में से डाक्टर ने दो को एक्सरे करने को कहा। देर शाम हुए इस हादसे से पता चला कि मशीन तो है लेकिन संचालक छुट्टी पर है। इस पर सिविल सोसाइटी ठियोग ने कड़ा रोष प्रकट किया है।
इस हादसे में घायलों की संख्या ज्यादा होने से ड्यूटी पर तैनात डाक्टर को परेशानी का सामना करना पड़ा। सिविल सोसाइटी के अध्यक्ष ने जब अस्पताल के एसएमओ से फोन पर बात की तो पता चला कि अस्पताल में अपनी सेवाएं देने वाले सभी डाक्टर आठ किलोमीटर का दायरा लांघ शिमला में रहना पसंद करते हैं। उन्होंने स्वयं को भी शिमला में बताया और साफ किया कि वह स्टेशन लीव देकर आए हैं। सिविल सोसाइटी के अध्यक्ष पंकज शर्मा ने बताया कि आपात स्थिति में किसी की जान भी जा सकती है।

Related posts