सड़क में एनओसी नहीं बनेगी अड़ंगा

चंबा। सड़क निर्माण में लंबे समय से अड़ंगा साबित हो रही एनओसी की समस्या अब खत्म होने वाली है। सड़क की क्लीयरेंस के लिए वन और लोकनिर्माण विभाग के अधिकारी आमने-सामने वार्तालाप करेंगे। इससे एनओसी को लेकर कोई सस्पेंस नहीं रहेगा। सरकार के आदेशानुसार वन, लोकनिर्माण, आईपीएच और शिक्षा विभाग की हर माह पांच तारीख को बैठक होगी। इससे रुके विकास कार्यों को गति मिलेगी और एनओसी को लेकर भी स्थिति स्पष्ट को जाएगी।
वन विभाग के डीएफओ किरपा शंकर एम ने बताया कि पेंडिंग पड़े विकास कार्यों को लेकर हर महीने वन, लोकनिर्माण और आईपीएच विभाग की संयुक्त बैठक होगी। कहा कि बैठक में पेंडिंग कामों को लेकर चर्चा की जाएगी। साथ ही सड़क की एनओसी को लेकर भी विचार विमर्श होगा। उल्लेखनीय है कि जिला में लोकनिर्माण विभाग ने 117 सड़कों के निर्माण के लिए प्रस्ताव भेजा है। एनओसी न मिलने के कारण 12 मामले डीएफओ के पास पेंडिंग पड़े हैं। इसके अलावा दो मामले नोडल आफिसर एफसीए शिमला के पास तथा 11 केस जीओआई फार द फाइनल अप्रूवल के कारण फंसे हैं। जिला में दर्जनों सड़कों को एनओसी न मिलने के कारण सड़क का काम अधर में लटका है। एनओसी को लेकर विभाग एक दूसरे पर कागजी कार्रवाई पूरी न होने की बात कहकर पल्लू झाड़ लेते हैं। इससे सड़क निर्माण के कई मामले लटके पड़े हैं। बैठक में एनओसी को लेकर स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। इसके चलते सड़कों के निर्माण क ार्य में तेजी आएगी।

Related posts