शिमला शहर में कर प्रणाली का युक्तिकरण करेंगे : वीरभद्र

शिमला। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि नगर निगम शिमला के क्षेत्र में कर प्रणाली का युक्तिकरण किया जाएगा, जिससे शहरी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को किसी प्रकार की कठिनाई का सामना न करना पड़े। मुख्यमंत्री वीरवार को यहां शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, चंबा और बिलासपुर जिलों के विधायकों की वर्ष 2013-14 की वार्षिक योजना में प्राथमिकताओं को लेकर आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे।
इस मौके पर चौपाल निर्वाचन क्षेत्र से विधायक बलवीर सिंह वर्मा ने लोक निर्माण, स्वास्थ्य, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य, शिक्षा तथा अन्य विभागों में विभिन्न श्रेणियों के रिक्त पदों को भरने की मांग की। उन्होंने कुपवी में सब्जी मंडी तथा दुर्गम क्षेत्रों में नियुक्तियों में अलग नीति तैयार करने का आग्रह किया। कसुम्पटी विधानसभा क्षेत्र के विधायक अनिरुद्ध सिंह ने योजनाओं को विधायक प्राथमिकता में शामिल करने से पूर्व समुचित सर्वेक्षण की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने स्कूल भवनों विशेषकर प्राथमिक स्कूलों के भवनों का निर्माण प्राथमिकता पर करने का आग्रह किया। शिमला के विधायक सुरेश भारद्वाज ने मुख्यमंत्री का शिमला शहर के लिए मोनो रेल सेवा योजना आरंभ करने प्रारूप तैयार करने के लिए धन्यवाद किया। उन्होंने अनाज मंडी तथा सब्जी मंडी को दाड़नी का बगीचा में स्थानांतरित करने मांग की। उन्होंने शिमला शहर में भूमिगत विद्युत लाइन बिछाने का भी आग्रह किया। जुब्बल-कोटखाई के विधायक रोहित ठाकुर ने ठियोग-हाटकोटी सड़क के निर्माण कार्य को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करने का आग्रह किया। उन्होंने खड़ापत्थर में सुरंग निर्माण का आग्रह किया और गुम्मा तथा नजदीक के क्षेत्रों में छोटे विपणन यार्ड खोलने का भी आग्रह किया। उन्होंने प्राथमिकता के आधार पर एंटी हेलनेट योजना आरंभ करने का भी आग्रह किया। रामपुर के विधायक नंद लाल ने टिक्कर, काशापाट और तकलेश सड़क का निर्माण प्राथमिकता के आधार पर करने का आग्रह किया। उन्होंने स्वास्थ्य, सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग और रामपुर स्थित अन्य विभिन्न विभागों में पर्याप्त स्टाफ उपलब्ध करवाने का भी आग्रह किया। उन्होंने रामपुर में फ ल तथा सब्जी विपणन यार्ड खोलने का भी आग्रह किया। रोहड़ू के विधायक मोहन लाल ब्राक्टा ने ठियोग-हाटकोटी सड़क निर्माण को प्राथमिकता के आधार पर पूरा करने का आग्रह किया। उन्होंने रोहड़ू स्थित विभिन्न कार्यालयों में रिक्त पड़े पदों को शीघ्र भरने का आग्रह किया। उन्होंने चिड़गांव में हेलीपेड के निर्माण की भी मांग की। सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री विद्या स्टोक्स, स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह ठाकुर, आबकारी एवं कराधान मंत्री प्रकाश चौधरी, मुख्य संसदीय सचिव राजेश धर्मांणी एवं विनय कुमार ने भी बैठक में भाग लिया। उन्होंने अपने बहुमूल्य सुझाव दिए। मुख्य सचिव एस. राय ने कहा कि विधायक प्राथमिकताओं को बजट में विशेष प्राथमिकता प्रदान की जाएगी तथा विधायकों द्वारा प्रस्तावित योजनाओं के शीघ्र कार्यान्वयन के लिए प्रभावी पग उठाए जाएंगे। प्रधान सचिव वित्त डा. श्रीकांत बाल्दी ने मुख्यमंत्री तथा अन्य का स्वागत किया। अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, सचिव, विभागाध्यक्ष तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में उपस्थित थे।
शांडिल्य

Related posts