राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना से ग्रामीण वंचित

शिलाई (सिरमौर)। राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना के तहत विद्युत उप मंडल शिलाई के तहत बीपीएल परिवारों के घरों में अभी तक बिजली के मीटर नहीं लग पाए हैं। यह काम एक निजी कंपनी को सौंप रखा है। मीटर इन परिवारों के घरों में निशुल्क लगने हैं। लेकिन योजना पूरी होने के बाद भी इन घरों में आज तक मीटर नहीं लग सके हैं।
राजीव गांधी विद्युतीकरण योजना का मुख्य उद्देश्य दूर दराज क्षेत्र में बिजली पहुंचाकर बीपीएल परिवारों को मुफ्त में बिजली के मीटर लगाकर कनेक्शन देना है। उप मंडल शिलाई में इस योजना के तहत 150 बीपीएल परिवारों के मीटर लगने थे। यह कार्य वर्ष 2011-12 में पूरा होना था लेकिन आज तक न तो लाइनें पूरी हुई और न ही मीटर लगे।
बोर्ड का काम देखरेख करना : अत्री
विद्युत उपमंडल शिलाई के सहायक अभियंता जगदीश अत्री ने बताया कि जो कंपनी लाइन निर्माण कर रही है मीटर भी वही लगवाएगी। इसके साथ ही मीटर सहित तार आदि सारा सामान भी कंपनी की ओर से मिलेगा। लेकिन कंपनी न तो मीटर और तार दे रही है और न ही निर्माण कार्य पूरा कर रही है। बिजली बोर्ड का कार्य देखरेख करना है। मीटर और लाइनें जब तैयार हो जाएंगी उसके बाद बोर्ड कार्य करेगा।

Related posts