मंडी के बलबीर को उम्र कैद

सोलन। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश जेएन यादव की अदालत ने हत्या आरोपी को दोषी करार दिया है। पक्ष और विपक्ष की दलीलें सुनने के बाद माननीय अदालत ने अभियुक्त बलबीर सिंह पुत्र डंकू राम निवासी बालकपुरा तहसील जोगिंद्रनगर मंडी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। पांच हजार जुर्माने के भी आदेश हैं।
जुर्माना न अदा करने के एवज में दोषी को एक माह अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। अभियोजन पक्ष की तरफ से मामले की पैरवी जिला उप न्यायवादी एमके शर्मा ने की है। परवाणू में एक फैक्टरी में झगड़े के दौरान इंद्रजीत सिंह की हत्या हुई थी। हत्या आरोपी को शक था कि इंद्रजीत उसकी पत्नी के प्रति गलत इरादे पाले हुए हैं।
जिला उप न्यायवादी ने बताया कि परवाणू की फैक्टरी के सेक्टर चार में पुलिस को झगड़े की सूचना मिली। यह झगड़ा 26 जनवरी 2011 को हुआ। श्रम विभाग की इजाजत से छुट्टी के दिन विशेष काम के लिए 22 वर्कर फैक्टरी में तैनात थे। दोपहर पौने तीन बजे उद्योग की गैलरी में लड़ाई हुई। शोर सुनकर वर्कर मौके पर पहुंचे। वर्करों ने देखा कि बलबीर सिंह के हाथों में लोहे की राड है और इंद्रजीत सिंह नाली में गिरा है। पूछने पर बलबीर ने बताया कि उसने पिटाई की है। इंद्रजीत को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित किया गया। अभियुक्त ने कत्ल स्वीकारा। कारण रहा इंद्रजीत का उसकी पत्नी पर गलत निगाह रखना बताया गया।

Related posts