हरियाणा सरकार ने ‘ग्राम दर्शन’ पोर्टल किया शुरू, विकास से जुड़ी शिकायत व सुझाव दर्ज करा सकेंगे ग्रामीण

हरियाणा सरकार ने ‘ग्राम दर्शन’ पोर्टल किया शुरू, विकास से जुड़ी शिकायत व सुझाव दर्ज करा सकेंगे ग्रामीण

चंडीगढ़
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि ग्रामीण अब सरकार को विकास कार्यों संबंधी मांग/शिकायत और सुझाव सीधे ऑनलाइन दे सकेंगे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यह बात शुक्रवार को चंडीगढ़ में ऑनलाइन पोर्टल ग्राम दर्शन gramdarshan.haryana.gov.in का लोकार्पण करने के अवसर पर कही। इस अवसर पर हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला भी उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीणों द्वारा दिए गए सुझावों के आधार पर भविष्य की विकास योजनाओं का खाका तैयार किया जाएगा। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे अपने विभाग की पांच कामों की प्राथमिकताएं तय करें। मनोहर लाल ने कहा कि सरकार की प्राथमिकता लोगों की शिकायतों का निवारण करना है। ग्रामीणों द्वारा ग्राम दर्शन पोर्टल पर की जाने वाली शिकायतों को सीएम विंडो के साथ लिंक किया जाएगा ताकि शिकायतों का दोहराव न हो। मुख्यमंत्री ने ग्राम दर्शन पोर्टल का लिंक ‘जन सहायक’ एप के साथ जोड़ने का भी निर्देश दिया।

अपने गांव की शिकायत ही की जा सकेगी दर्ज
ग्राम दर्शन पोर्टल पर कोई भी व्यक्ति केवल अपने स्थाई निवास के गांव (जो परिवार पहचान पत्र में दर्ज हो) के संबंध में शिकायत दर्ज कर सकेगा। ग्रामीणों द्वारा दिया गया सुझाव और मांग सीधे सरपंच/पंचायत समिति सदस्य/जिला परिषद सदस्य/विधायक और सांसद को दिखाई देंगे। सभी जनप्रतिनिधियों को उनके अधिकार क्षेत्र के ही सुझाव डैशबोर्ड पर दिखाई देंगे, जिन्हें संबंधित जनप्रतिनिधि संस्तुति के साथ आगे बढ़ा सकेंगे।

एसएमएस से मिलेगी सुझाव/शिकायत के स्टेटस की जानकारी
पोर्टल पर सुझाव/शिकायत दर्ज कराने के साथ ही एक आईडी जेनरेट होगी जो संबंधित आवेदक को एसएमएस के माध्यम से मिलेगी। इसके साथ ही आवेदक को समय समय पर सुझाव/शिकायत पर हुई कार्रवाई की अपडेट सूचना एसएमएस के मध्यम से मिलती रहेगी।

Related posts