हथियारों की संस्कृति पर ओबामा ने कहा: अब समय है कुछ करने का

वाशिंगटन: अपनी चिर-परिचत शैली में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने हथियारों की संस्कृति और गोलीबारी की विध्वंसक घटनाओं के संबंध में कहा है कि अब ‘कुछ करने का समय’ आ गया है। गोलीबारी की इन घटनाओं में बच्चों समेत बहुत से निर्दोष लोग मारे गए हैं। मिनिपोलिस में कल एक बैठक को संबोधित करते हुए ओबामा ने कहा, ‘हमें हर बात पर हां में हां मिलाने की जरूरत नहीं है। अब कुछ करने का समय आ गया है। आज का मेरा मुख्य संदेश यही है। और हम से हर किसी को अपनी भूमिका अदा करनी है।’

उन्होंने एक सप्ताह पहले कहा था कि उन्होंने मामलों की पृष्ठभूमि की पड़ताल करने, स्कूलों को यदि जरूरत हो तो उन्हें अधिक अधिकारी मुहैया कराने और बीमारी रोकथाम केंद्र को हिंसा के कारणों का पता लगाने को कहा था। ओबामा ने तर्क दिया, लेकिन अब समय आ गया है कि कांग्रेस को इस मुद्दे पर एक निर्णय लेना चाहिए। राष्ट्रपति ने कहा, ‘हमें कदम उठाने चाहिए। हमें सेना की शैली के हथियारों पर प्रतिबंध लगाना चाहिए। इस पर कांग्रेस में मत विभाजन की जरूरत है। क्योंकि युद्ध के हथियारों की हमारे शहरों, स्कूलों में जरूरत नहीं है।’

Related posts