हत्या, अपहरण और लूट की धाराएं, आज हो सकती है पहलवान सुशील पर चार्जशीट

हत्या, अपहरण और लूट की धाराएं, आज हो सकती है पहलवान सुशील पर चार्जशीट

नई दिल्ली
ओलंपियन सुशील कुमार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने सुशील कुमार के खिलाफ अब लूट की धाराएं जोड़ दी हैं। सुशील कुमार के खिलाफ लूट की धारा 392(लूटपाट), 394(लूट के साथ चोट पहुंचाना) और 397(लूटपाट के दौरान हथियार से ऐसी चोट पहुंचाना जिससे पीड़ित की मौत हो जाए) जोड़ी हैं। सुशील ने साथी के साथ पीड़ितों के मोबाइल लूटे थे। 

इससे पहले सुशील कुमार के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, आम्र्स एक्ट, बंधक बनाने, अपहरण करने व मारपीट करने समेत कई धाराओं में मामला दर्ज है। दूसरी तरफ गुजरात एफएसएल ने भी कहा है कि छत्रसाल स्टेडिमय में पीड़ितों की पिटाई की बनाई गई वीडियो असली है। उसके साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है। 

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरोपी सुशील कुमार व रोहित मालिक ने विकास डोली व रविन्द्र का मोबाइल लूटा था। दोनों मोबाइल फोन रोहित मलिक के कब्जे से बरामद किए गए हैं। इस कारण सुशील कुमार व रोहित मालिक के खिलाफ लूट की धाराएं लगाई गई है। आरोपियों ने पीड़ितों की पिटाई करते हुए जो वीडियो बनाई थी उसे अपराध शाखा ने जांच के लिए गुजरात एफएसएल भेजा था। गुजरात एफएसएल ने भी कहा है कि वीडियो असली है और उसके खिलाफ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है। 

इससे पहले अपराध शाखा ने रोहिणी, दिल्ली स्थित एफएसएल से भी वीडियो की जांच कराई थी। रोहिणी एफएसएल ने भी कहा था कि वीडियो के साथ छेड़छाड़ नहीं की गई है। अपराध शाखा के अधिकारियों ने बताया कि वीडियो को गुजरात इसलिए भेजा गया था कि सुशील कुमार दिल्ली सरकार में नौकरी करता था और रोहिणी एफएसएल दिल्ली सरकार के तहत काम करती है। इसलिए वीडियो को जांच के लिए गुजरात भेजा गया था। 

आज चार्जशीट दाखिल हो सकती है 
दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा सागर धनखड़ हत्या मामले में रोहिणी कोर्ट में आज चार्जशीट दाखिल कर सकती है। बताया जा रहा है कि सुशील समेत 13 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जाएगी। सागर हत्या मामले में अभी तक कुल 15 आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं। दो आरोपी प्रवीण डबास व अनिल धीमान बाद में गिरफ्तार हुए थे। जार्चशीट में कुल 150 गवाह हैं। इनमें 50 प्राइवेट गवाह हैं। 

दो और आरोपियों की पहचान 
सागर धनखड़ हत्या मामले में अभी तक कुल 20 आरोपियों की पहचान हो चुकी है। इससे पहले 18 आरोपियों की पहचान हुई थी। दो आरेपियों की और पहचान हुई है। दोनों आरोपी सुल्तानपुर डबास गांव के रहने वाले हैं। सागर हत्या मामले में अब तक कुल 20 आरोपियों की पहचान हो चुकी है। पांच आरोपी अभी तक फरार हैं। इनमें से तीन पर 50-50 हजार का इनाम रखा हुआ है। 

Related posts