सिगरेट पर वैट बढ़ोतरी वापस ले सरकार : सिंघल

पांवटा साहिब (सिरमौर)। पांवटा व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय सिंघल ने कहा कि राज्य सरकार वैट में बढ़ोतरी के फैसले पर पुनर्विचार करे जिससे प्रदेश के हजारों व्यापारियों को प्रभावित होने से बचाया जा सके। इस फैसले से प्रदेश में करीब 50 हजार व्यापारियों की आजीविका पर सीधा असर पड़ेगा।
व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय सिंघल व उपाध्यक्ष जोगिंद्र सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार ने सिगरेट पर वैट दर 18 फीसदी से सीधा 36 फीसदी का निर्णय लिया है। वैट के साथ जुड़ी प्रवेश टैक्स को 4 से सीधे 40 प्रतिशत किया है, पूरे देश में कहीं पर नहीं है। व्यापार मंडल अध्यक्ष ने कहा कि इस फैसले का बुरा असर प्रत्यक्ष व परोक्ष रुप से प्रदेश के तीन लाख लोगों पर पड़ेगा। इससे सिरगेट तस्करी को बढ़ावा मिलेगा जिससे सीधा असर प्रदेश के राजकोष पर पड़ेगा। प्रदेश को मिलने वाले कर में कमी आएगी। सरकार को भी इससे सीधा घाटा ही भुगतना पड़ेगा।
पांवटा व्यापार मंडल अध्यक्ष ने कहा कि हिमाचल में सिगरेट का बड़ा बाजार है। इसलिए पड़ोसी राज्यों से अवैध सिरगेट व्यापार को प्रोत्साहन ही मिलेगा जिससे आजीविका उपार्जन करने वाले स्थानीय व्यापारी इस व्यवसाय से विमुख होंगे। केवल बाहरी गैर सामाजिक तत्वों को अवैध रुप से घटिया गुणवत्ता वाले सिगरेट तस्करी का धंधा खूब फलेगा फूलेगा। जबकि वैध ढंग से सिगरेट विक्रेताओं की अत्यधिक वैट थोपने से कमर टूट जाएगी। जबकि अवैध कारोबारियों की पौ बारह हो जाएगी। इसलिए प्रदेश सरकार प्रदेश के करीब 50 हजार व्यापारियों व उन पर आश्रित परिवारों समेत करीब तीन लाख लोगों को ध्यान में रख कर, एक बार फिर से इस फैसले पर विचार करे।

Related posts