साजिश का भंडाफोड़: महिला समेत तीन लोगों को पुलिस ने पकड़ा, खालिस्तान का प्रचार करने का आरोप

साजिश का भंडाफोड़: महिला समेत तीन लोगों को पुलिस ने पकड़ा, खालिस्तान का प्रचार करने का आरोप

पटियाला (पंजाब)
पंजाब में आने वाले विधानसभा चुनावों से पहले पटियाला में मंगलवार को एक बड़ी साजिश का पर्दाफाश हुआ, जब पुलिस ने बब्बर खालसा इंटरनेशनल (सुखदेव बब्बर ग्रुप) का एरिया कमांडर रहे मनजीत सिंह निवासी दरगापुर जिला गुरदासपुर के छोटे भाई की पत्नी व उसके बेटे समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया। 

पुलिस के मुताबिक तीनों आरोपी सिख फॉर जस्टिस के लिए प्रचार करने वाले गिरोह के सदस्य हैं और इनके पास से काफी मात्रा में प्रचार सामग्री भी बरामद की गई है। आरोपी धार्मिक स्थानों व अन्य सार्वजनिक स्थानों पर लोगों में रेफरेंडम-2020 के लिए वोटिंग करने के लिए रजिस्ट्रेशन फार्म बांटते थे। गौरतलब है कि आतंकी मनजीत सिंह पंजाब में आतंकवाद के दौर में मारा गया था।

एसएसपी हरचरण सिंह भूल्लर ने बताया कि डीएसपी सर्कल राजपुरा गुरबंस सिंह बैंस की अगुवाई में पुलिस पार्टी बन्नो माई मंदिर मेन रोड बनूड़ के पास मौजूद थी, इसी बीच सूचना मिली कि जगमीत सिंह निवासी हाउसफेड सोसायटी बनूड़, रविंदर सिंह निवासी गांव जसड़ा जिला फतेहगढ़ साहिब खालिस्तान के समर्थन में प्रचार कर रहे हैं। 
यह दोनों विभिन्न धार्मिक स्थानों व अन्य सार्वजनिक स्थानों पर जाकर लोगों को रेफरेंडम के लिए रजिस्ट्रेशन फार्म बांट रहे हैं। इसके अलावा धार्मिक स्थानों व सार्वजनिक स्थानों पर खालिस्तान जिंदाबाद और आजादी का एक ही हल खालिस्तान आदि नारे लिख रहे हैं और पोस्टर चिपका रहे हैं। इन दोनों को पोस्टर व अन्य प्रिंटिंग सामग्री आरोपी जगमीत सिंह की माता जसवीर कौर मुहैया करा रही है। जिस पर इनके खिलाफ थाना बनूड़ में केस दर्ज करके आरोपी जगमीत सिंह व रविंदर सिंह को बनूड़ के बस स्टैंड के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। जबकि तीसरी आरोपी जसवीर कौर को पुराना सेल टैक्स बैरियर के पास से गिरफ्तार किया गया है। तीनों के पास से कुल 692 फार्म, दो प्लास्टिक की प्लेट, तीन स्प्रे की बोतलें, एक मोटरसाइकिल, दो काले रंग के मारकर और एक करेक्शन पेन मिला है।  

आरोपी महिला जसवीर का पति पंजाब रोडवेज चंडीगढ़ में तैनात है
एसएसपी ने बताया कि आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा हुआ है कि जसवीर कौर का पति कुलदीप सिंह पंजाब रोडवेज चंडीगढ़ में बतौर सुपरिंटेंडेंट तैनात है। यह जोड़ा मूलरूप से गुरदासपुर जिले के गांव दरगापुर का रहने वाला है। करीब 12 साल पहले बनूड़ शिफ्ट हो गए थे। कुलदीप सिंह अखंड कीर्तनी जत्थे में सेवा करने के लिए अपने परिवार समेत गुरुद्वारा साहिब श्री फतेहगढ़ साहिब जी जाता था। जहां आरोपी रविंदर सिंह भी सेवा करता था। इसी दौरान कुलदीप सिंह के लड़के जगमीत सिंह की रविंदर सिंह के साथ दोस्ती हो गई।

पुलिस के मुताबिक आरोपी जसवीर कौर व उसका लड़का जगमीत सिंह सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम व यूट्यूब के जरिए खालिस्तान बनाने संबंधी रेफरेंडम-2020, सिख फॉर जस्टिस जैसी प्रतिबंधित संगठनों साथ जुड़े थे। जसवीर कौर को कुछ फंडिंग खालिस्तान का प्रचार करने संबंधी आई थी। पुलिस के मुताबिक आरोपियों को अदालत में पेश करके इनका छह दिनों का रिमांड हासिल किया गया है। जांच जारी है और आने वाले समय में इनके साथ और कौन-कौन शामिल हैं, इस बारे में पूछताछ की जाएगी।

Related posts