समय पर स्ट्रेचर नहीं मिलने से उखड़ी सांस

घुमारवीं (बिलासपुर)। स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्रदेश के अव्वल होने के दावों की पोल आए दिन खुल रही है। जिला अस्पताल में समय पर स्ट्रेचर नहीं मिलने के कारण दमे से ग्रस्त एक मरीज की मौत का मामला सामने आया है। मामला कुछ दिन पहले का है। परिजनों ने आरोप लगाते हुए सीएमओ से इसकी शिकायत की है।
घुमारवीं क्षेत्र के वासुदेव शर्मा ने बताया कि कुछ दिन पहले दमा से ग्रस्त उनके भाई सुखदेव को गाड़ी से अस्पताल पहुंचाया गया। वहां तैनात चिकित्सक से चैक अप करवाया तो उन्होंने मरीज को इमरजेंसी में लाने को कहा। मरीज की हालत नाजुक थी। ऐसे में उन्हें स्ट्रेचर पर ले जाया जा सकता था। वहां लोग नहीं थे। वह स्ट्रेचर के लिए इधर-उधर भटकते रहे, किंतु स्ट्रेचर नहीं मिला। करीब आधा घंटे बाद जब स्ट्रेचर मिला तो उनके अनुज की मृत्यु हो चुकी थी। इस बारे मृतक के परिजनों ने सीएमओ से शिकायत की है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सीआर वर्मा ने संपर्क करने पर कहा कि घटना दुखद है। उन्होंने कहा कि अस्पताल में स्ट्रेचरों की कमी नहीं है। कैजुअल्टी में जरूरत के अनुसार दो स्ट्रेचर रखे गए थे। दूरभाष के माध्यम से समय पर स्ट्रेचर नहीं मिलने की वजह से किसी की मौत होने की शिकायत मिली है। इसके बाद स्ट्रेचर की संख्या दो से बढ़ाकर चार कर दी है।

Related posts