शिमला के पहले केबल ओवरब्रिज का रास्ता साफ, जल्द शुरू होगा काम

शिमला के पहले केबल ओवरब्रिज का रास्ता साफ, जल्द शुरू होगा काम

शिमला
सर्कुलर रोड पर लिफ्ट के पास बनने वाले हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के पहले केबल स्टे ओवरब्रिज के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। इस प्रोजेक्ट के निर्माण के लिए जमीन संबंधी सारी क्लीयरेंस मिल गई है। इस प्रोजेक्ट का टेंडर अवार्ड भी हो चुका है। अब रोपवे अथॉरिटी इसका डिजाइन तैयार करने में जुट गई है। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत करीब पांच करोड़ की लागत से बनने वाला यह ओवरब्रिज जून 2022 तक तैयार हो जाएगा। 

दो साल पहले तैयार किए गए इस प्रोजेक्ट के निर्माण के लिए अभी तक जमीन संबंधी क्लीयरेंस नहीं मिल पाई थी। ओवरब्रिज के बनने से शहर की जनता और शिमला आने वाले सैलानियों को काफी फायदा होगा। सर्कुलर रोड पर लिफ्ट के पास यातायात के बीच से सड़क पार नहीं करनी पड़ेगी। अभी स्थानीय लोगों और साथ लगती पार्किंग में गाड़ियां खड़ी कर माल रोड जाने वाले सैलानियों को ट्रैफिक रोककर सड़क पार करनी पड़ती है।

पुलिसकर्मियों को भी बार बार लोगों को सड़क पार करने के लिए यातायात रोकना पड़ता है। लेकिन अब यह परेशानी नहीं रहेगी। सड़क से करीब छह मीटर ऊंचे बनने वाले इस ओवरब्रिज के लिए सड़क पर कोई पिलर नहीं बनेगा। वर्तमान पुल के निचली तरफ नाले से करीब 65 मीटर ऊंचे एक कंकरीट पाइलन (पिलर) का निर्माण किया जाएगा, जो केबल के जरिये ओवरब्रिज का पूरा भार उठाएगा।

ऐसा बनेगा प्रोजेक्ट, मिलेगी सुविधा
इस ब्रिज का एक सिरा लिफ्ट के पास पीपीपी मोड पर बनी पार्किंग के गेट से शुरू होगा। लोग यहां गाड़ियां खड़ी कर ब्रिज पर चलकर सीधे एचपीटीडीसी की लिफ्ट के गेट पर पहुंच जाएंगे। इसी ब्रिज का दूसरा सिरा मेट्रोपोल की ओर से माल रोड आने वाले पैदल रास्ते को कनेक्ट करेगा। यानी जो लोग लिफ्ट से माल रोड जाना चाहते हैं, वे लिफ्ट गेट पर उतरेंगे, वहीं जो लोग पैदल मालरोड जाना चाहते हैं, वे मेट्रोपोल वाले रास्ते पर पहुंच जाएंगे।

जल्द शुरू करेंगे निर्माण 
शहर के पहले केबल स्टे ओवरब्रिज का निर्माणकार्य अब जल्द शुरू किया जा सकेगा। इस प्रोजेक्ट के निर्माण के लिए जमीन संबंधी क्लीयरेंस हो गई हैं। अब डिजाइन तैयार किया जा रहा है। -नितिन गर्ग, महाप्रबंधक, शिमला स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट

Related posts