शक्ति प्रदर्शन: खेलमंत्री के यहां डिनर पर पहुंचे 58 विधायक, आठ मंत्री भी रहे मौजूद

शक्ति प्रदर्शन: खेलमंत्री के यहां डिनर पर पहुंचे 58 विधायक, आठ मंत्री भी रहे मौजूद

चंडीगढ़
विरोधी खेमे के खिलाफ पार्टी हाईकमान का खुला समर्थन मिलने से उत्साहित कैप्टन अमरिंदर सिंह और उनके समर्थकों ने जहां राहत की सांस ली है, वहीं उनके समर्थकों की तादाद भी बढ़ने लगी। गुरुवार को पंजाब कैबिनेट की बैठक के बाद खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने अपने आवास पर डिनर पार्टी का आयोजन किया, जिसमें मुख्यमंत्री के अलावा 58 विधायक और आठ कैबिनेट मंत्री मौजूद रहे।

 मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने इसकी पुष्टि की है। राणा सोढी मुख्यमंत्री के सबसे करीबी नेताओं में से एक माने जाते हैं, इसलिए उनके आवास पर इस आयोजन को कैप्टन खेमे के शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है। दूसरी ओर, विरोधी खेमे में शामिल तीन मंत्री गुरुवार को हाईकमान से कैप्टन की शिकायत करने दिल्ली पहुंचे हैं। खेल मंत्री के घर हुई इस डिनर पार्टी ने प्रदेश के सियासी हलकों में नए चर्चाएं छेड़ दी हैं। 

मंगलवार को तृप्त बाजवा के आवास पर विरोधी खेमे ने जो संख्या बल दिखाया था, उसके हिसाब से 60 विधायक कैप्टन के साथ थे लेकिन गुरुवार को राणा सोढी के डिनर पार्टी में यह संख्या बढ़कर 66 हो गई है। यानी विरोधी खेमे के लिए अब कैप्टन का मुकाबला कर पाना किसी भी स्तर पर संभव नहीं रह गया है। वहीं, हाईकमान का समर्थन और पार्टी मामलों के प्रभारी हरीश रावत ने एलान किया है कि अगला विधानसभा चुनाव कैप्टन के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा। इसके बाद कैप्टन खेमे में नया जोश भर गया है।

इस बीच, जानकारी मिली है कि डिनर पार्टी के दौरान कैप्टन ने सभी विधायकों-मंत्रियों से निजी स्तर पर बातचीत की और उनके हलकों के बारे में जानकारी भी हासिल की। इससे पहले गुरुवार दोपहर राणा सोढी ने विरोधी खेमे पर निशाना साधते हुए उन्हें सलाह दी थी कि इस तरह पार्टी को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए। सोढी का कहना है कि कैप्टन को बदलने का सवाल ही पैदा नहीं होता और इस संबंध में हाईकमान ने भी विरोधियों को स्पष्ट कर दिया है। उन्होंने कहा कि कैप्टन की कार्यशैली से हाईकमान संतुष्ट है। उन्होंने विरोधियों को नसीहत भी दी कि मिल-बैठकर मसले हल कर लेने चाहिए।

Related posts