विस्फोट होता तो 40 मीटर का इलाका हो जाता तबाह : एनएसजी

विस्फोट होता तो 40 मीटर का इलाका हो जाता तबाह : एनएसजी

नई दिल्ली
दिल्ली पुलिस और एनएसजी को मानें तो गाजीपुर फूल मंडी से बरामद विस्फोटक इतना शक्तिशाली था कि अगर फट जाता तो करीब 40 मीटर एरिया को तबाह कर देता। अधिकारियों के अनुसार बम का वजन दो से तीन किलोग्राम था। खास बात यह है कि जहां स्कूटी खड़ी थी उस जगह को सीसीटीवी कैमरा कवर नहीं कर रहा है। बताया जा रहा है कि आरडीएक्स व अमोनियम नाइट्रेट से मिलकर बम को बनाया गया है और ये लोहे के तिकोने बॉक्स में रखा हुआ था। आरडीएक्स के इस्तेमाल होने से लग रहा है कि यह आतंकी वारदात है। बम से सफेद सा पाउडर निकल रहा था। स्पेशल सेल के एक अधिकारी ने बताया कि बम को निष्क्रिय करने की पूरी कार्रवाई एनएसजी ने की है और एनएसजी ने अभी कोई जानकारी शेयर नहीं की है।

स्पेशल सेल के एक अधिकारी व एक दुकानदार ने बताया कि अनुपम नाम का व्यक्ति संक्रांति के मौके पर गाजीपुर मंडी में फूल खरीदने शुक्रवार सुबह आया था। फूल खरीदकर अनुपम जब वापस जाने लगा तो उसने स्कूटी पर बैग रखा देखा। उसने दुकानदारों से बैग के बारे में पूछा। दुकानदारों ने बैग की जानकारी होने के बारे में मना किया। दुकानदार अनुपम को बोले की वह बैग को छोड़कर चला जाए, मगर अनुपम मौके से गया नहीं। इसके बाद अनुपम ने इसकी सूचना 100 नंबर पर दी। गाजीपुर थाने से बीट अफसर विनीत मौके पर पहुंचे। उसने बैग को खोलकर देखा तो उसमें लोहे का बॉक्स व कुछ तार दिखाई दिए। बीट अफसर को कुछ संदिग्ध लगा और उसने जिले के बम निरोधक दस्ते को मौके पर बुलाया। बम निरोधक दस्ते को भी बैग में संदिग्ध पदार्थ व बैटरी आदि दिखाई दिए। इसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल व एनएसजी की सूचना दी गई।

आतंकी वारदात के नहीं थे गंभीर इनपुट
गाजीपुर में आईईडी(बम) मिलने के बाद देश व दिल्ली पुलिस के खुफिया विभाग पर सवाल खड़े हो गए हैं। हर वर्ष 26 जनवरी को देखते हुए आतंकी वारदात व दहशतगर्दों के देश व दिल्ली में घुसने के इनपुट होते हैं, मगर इस बार देश व दिल्ली पुलिस के खुफिया विभाग के पास किसी तरह के इनपुट नहीं थे। गनीमत यह रही कि बम फटा नहीं, बल्कि तीन किलो से ज्यादा का बम बहुत बड़े पैमाने पर नुकसान कर सकता था। शुरुआती जांच के बाद इसे आतंकी वारदात बताया जा रहा है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस को देखते हुए आतंकी वारदात का जनरल इनपुट होता है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दावा किया है कि इस बार देश के खुफिया विभाग ने किसी तरह के गंभीर(विशेष) इनपुट दिल्ली पुलिस को नहीं दिए हैं। साथ ही दिल्ली पुलिस के खुफिया विभाग से भी किसी तरह के इनपुट नहीं दिए। दिल्ली पुलिस अधिकारी गाजीपुर फूलमंडी में बम मिलने को सुरक्षा में बहुत बड़ी चूक मान रहे हैं। सुरक्षा एजेसियों इस बात को गंभीरता से ले रही है कि खुफिया विभाग से कैसे चूक हो गई।

हो सकता है टाइमर लगाया गया हो
एनएसजी अधिकारी का कहना है थ्क आईईडी के नमूने एकत्र कर लिए गए हैं और विस्तृत रिपोर्ट दिल्ली पुलिस को भेजी जाएगी। विशेष प्रकोष्ठ और दिल्ली पुलिस की नियमित इकाइयों के अधिकारियों के अलावा एनएसजी कर्मियों वाला एक बम सूट भी घटनास्थल पर देखा गया। यह संदेह है कि कथित व्यक्ति ने बम लगाने से पहले रेकी की थी। संदेह है कि बम के अंदर एक टाइमर रखा गया था।

सीसीटीवी फुटेज खंगालने में जुटी पुलिस
पुलिस अधिकारियों के अनुसार स्कूटी जिस पर मार्केट में खड़ी हुई थी उस जगह को सीसीटीवी कैमरा कवर नहीं कर रहा है। हालांकि वहां सीसीटीवी कैमरा लग रहा है। ऐसे में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल पूरे मार्केट के सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालकर पता लगा रही है कि बम वाले बैग को कौन लेकर आया था। जिस बैग में बम रखा हुआ था उसका रंग काला व नीला था। हालांकि उस पर कुछ लिखा हुआ नहीं था।
हाई अलर्ट पर पुलिस, सभी क्षेत्रों में चौकसी बढ़ी
गाजीपुर में शुक्रवार को आईईडी (बम) मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई है। बम मिलने के बाद दिल्ली में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। 26 जनवरी के चलते दिल्ली पहले से ही अलर्ट पर है। सभी थाना पुलिस को आतंकी वारदात रोकने के लिए एहतियाती कदम उठाने के सख्त आदेश दिए गए हैं। दिल्ली में भीड़भाड़ वाली जगहों व बाजारों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वीवीआईपी इमारतों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। राजधानी में जगह-जगह बैरिकेड लगाकर चेकिंग शुरू कर दी गई थी।

गाजीपुर फूल मंडी की पार्किंग में आईईडी मिलने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने सभी थाना पुलिस को सतर्क रहने के आदेश दिए। नई दिल्ली जिले में वायरलेस से मैसेज दिया गया कि गाजीपुर में आईईडी मिली है। ऐसे में सभी जिला थानाध्यक्ष व एसीपी अपने पुलिसकर्मियों को अलर्ट कर दें और बाजारों व भीड़भाड़ वाली जगहों पर सुरक्षा बढ़ा दें। दक्षिण-पूर्व जिले में कहा गया कि 26 जनवरी को देखते हुए सभी थानाध्यक्ष अपने पुलिसकर्मियों को अलर्ट रहें। किराएदारों का वेरिफिकेशन किया जाए। होटलों व भीड़भाड़ वाली जगहों पर चेकिंग बढ़ाने के लिए कहा गया है।

बैग में लोहे का टिफिन जैसा बॉक्स था-
दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार सुबह ट्वीट कर जानकारी दी कि गाजीपुर फूलमंडी में आईईडी मिली है। किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। एनएसजी ने कंट्रोल्ड एक्सप्लोशन से आईईडी को निष्क्रिय कर दिया था। साथ में दिल्ली पुलिस ने दावा किया है कि दिल्ली पुलिस व एनएसजी ने एक बड़ी घटना को टाल दिया है। दिल्ली पुलिस ने बताया कि बैग में लोहे का टिफिन जैसा बॉक्स था।

Related posts