विधायकों को धमकी के बाद अलर्ट हुई सरकार, पंजाब के बाद हरियाणा में दहशत कायम करने की फिराक में गैंगस्टर

विधायकों को धमकी के बाद अलर्ट हुई सरकार, पंजाब के बाद हरियाणा में दहशत कायम करने की फिराक में गैंगस्टर

चंडीगढ़
हरियाणा में कुल 144 गैंगस्टर हैं। इनमें से 108 विभिन्न जेलों में बंद हैं और 13 फरार चल रहे हैं। इनके साथ ही 22 अपराधी जमानत पर और 1 पैरोल पर है।

पंजाब में गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद पैदा हुए भय के माहौल को गैंगस्टर अब हरियाणा में कायम करने की फिराक में है। एक के बाद एक 4 विधायकों को आई धमकी और रंगदारी की कॉल पुलिस के लिए चुनौती बन गई है। हालांकि, हरियाणा खुफिया विभाग और स्पेशल टास्क फोर्स अलर्ट पर हैं और बदमाशों की कुंडलियां खंगालनी शुरू कर दी हैं। पुलिस के आला अधिकारियों का दावा है कि बदमाशों के मंसूबों को किसी भी सूरत में कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। जल्द ही धमकी देने वाले सलाखों के पीछे होंगे।

29 मई को हुई गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद से पंजाब में व्यापारियों, पूर्व मंत्रियों और विधायकों से गैंग के नाम पर रंगदारी मांगी जा रही हैं। कुछ इसी तर्ज पर अब हरियाणा में यह सिलसिला शुरू हो गया है। मूसेवाला हत्याकांड में अधिकतर शूटर हरियाणा के थे। चार शूटर प्रियव्रत फौजी, अंकित सेरसा, सचिन चौधरी और झज्जर निवासी कशिश को गिरफ्तार किया जा चुका है, जबकि अन्य गुर्गों की तलाश जारी है। हरियाणा में इससे पहले भी व्यापारियों और आढ़तियों से फिरौतियां मांगी गई हैं, लेकिन विधायकों को धमकी देने से स्थिति गंभीर बन गई है।
कई पहलुओं से जांच कर रही पुलिस
विधायकों को आए धमकी भरे फोन को पुलिस कई पहलुओं पर जांच कर रही है। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि कॉल दुबई के नंबरों से की गई थी और इनको पाकिस्तान से ऑपरेट किया गया है। वहीं, पुलिस इस पहलू पर भी जांच कर रही है कि कहीं बदमाशों ने विदेशों से नंबर लेकर आसपास के राज्यों से तो फोन नहीं किया। पुलिस इस एंगल पर भी काम कर रही है कि कहीं कोई अपराधी लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ के नाम का भय दिखाकर पैसे तो नहीं ऐंठना चाह रहे हैं। क्योंकि एक दिन पहले ही पानीपत पुलिस ने काला जठेड़ी और लॉरेंस के नाम पर व्यापारी से 20 रुपये की रंगदारी मांगने के आरोप में तीन युवकों को गिरफ्तार किया है।

बदमाशों और गैंगस्टर के लिए हरियाणा में कोई जगह नहीं है। हरियाणा में अपराध करने वालों की खैर नहीं है। अपराधी या तो अपराध छोड़ दें या फिर हरियाणा। हरियाणा पुलिस किसी भी सूरत में अपराधियों को पनपने नहीं देगी। अपराध को रोकने के सभी पुलिस अधिकारियों को सतर्क किया गया है और टीमें लगातार काम कर रही हैं। – अनिल विज, गृह मंत्री, हरियाणा।

Related posts