विद्यार्थी अब किताबों में पढ़ेंगे सड़क सुरक्षा का पाठ

विद्यार्थी अब किताबों में पढ़ेंगे सड़क सुरक्षा का पाठ

सोलन
हिमाचल प्रदेश में सड़क हादसों पर अंकुश लगाने के लिए पांचवीं के बाद अब छठी से 10वीं तक के विद्यार्थियों को भी सड़क सुरक्षा का पाठ पढ़ाया जाएगा। इसमें शिक्षक बच्चों को यातायात के नियमों का पालन करने का ज्ञान देंगे। प्राथमिक कक्षाओं से ही विद्यार्थियों को सड़क सुरक्षा का ज्ञान दिया जा रहा है। वहीं बड़ी कक्षाओं के लिए भी एससीईआरटी पाठ्यक्रम तैयार कर रही है। आगामी सत्र से इस पाठ्यक्रम को छठी से दसवीं कक्षा तक पढ़ाए जाने की संभावना है।

परिवहन विभाग की ओर से इसके लिए बजट दिया जा रहा है। बजट मिलते ही इस विषय को किताबों में शामिल कर लिया जाएगा। यह पाठ्यसामग्री हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध होगी। एससीईआरटी सोलन की प्रिसिंपल रीता शर्मा ने बताया कि संस्थान में छठी से दसवीं तक के विद्यार्थियों के लिए सड़क सुरक्षा पाठ्यक्रम तैयार करने की प्रक्रिया चल रही है। हालांकि प्राइमरी की कक्षाओं में पहले से ही सड़क सुरक्षा संबंधित पाठ शामिल किया जा चुका है। वहीं अब बड़ी कक्षाओं के लिए विषय को तैयार करने के लिए एससीईआरटी ने टीम का गठन किया है। जिसमें वरिष्ठ विषय विशेषज्ञ व अन्य सदस्य कार्य कर रहे।

पाठ्य सामग्री का यह होगा प्रारूप
पाठ्यक्रम में सड़क सुरक्षा की आधारभूत जानकारियों को शामिल किया गया है। इसमें यातायात नियम, जेब्रा लाइन, हेलमेट की आवश्यकता, सड़क पार करते समय बरती जाने वाली सावधानियों के संबंध में लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया व नियम, सड़क दुर्घटनाओं के कारण, दो पहिया और चौपहिया वाहन चलाने के लिए जरूरी दस्तावेज की जानकारी को भी शामिल किया जा रहा है। पाठ्यक्रम में सड़क सुरक्षा के शामिल होने पर बच्चों को गहनता के साथ सड़क सुरक्षा के नियमों के प्रति जागरूक किया जा सकेगा।

Related posts