लक्खा सिधाना का बयान: लालकिला हिंसा में गिरफ्तारियां गलत, पंजाब पुलिस ने भी नहीं की सुनवाई

लक्खा सिधाना का बयान: लालकिला हिंसा में गिरफ्तारियां गलत, पंजाब पुलिस ने भी नहीं की सुनवाई

चंडीगढ़
दिल्ली लालकिला हिंसा के मामले में शुक्रवार को पंजाब विधानसभा की समिति ने युवा किसानों के बयान दर्ज किए। इस दौरान लक्खा सिधाना ने बयान दर्ज कराए। सिधाना समेत युवाओं ने कहा कि हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने गलत तरीके से गिरफ्तार किया। इस बारे में पंजाब पुलिस ने भी सुनवाई नहीं की। इसके लिए जिम्मेदार पंजाब के डीजीपी को तलब कर जवाब मांगना चाहिए। 

समिति के चेयरमैन सर्वजीत मान और कांग्रेस के अन्य विधायक सदस्यों के सामने दिल्ली हिंसा में जमानत पर रिहा हुए युवा  किसानों ने कहा कि दिल्ली में उन्होंने शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया था। इसके बाद भी दिल्ली पुलिस ने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। बिना पंजाब पुलिस को सूचना दिए उनको दिल्ली पुलिस घर से गिरफ्तार कर ले गई। 

दिल्ली में उनके साथ पुलिस का अच्छा व्यवहार नहीं रहा। जमानत पर रिहा होकर आए तो पंजाब पुलिस को उन्होंने साक्ष्यों के साथ पूरी जानकारी दी लेकिन अभी तक पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। लक्खा सिधाना ने कहा कि यदि समिति और सरकार सच में किसान हितैषी है तो वह इस पूरे मामले में पंजाब पुलिस के मुखिया दिनकर गुप्ता को तलब करे और जवाब मांगे। समिति के समक्ष दो दर्जन किसान युवाओं ने अपने बयान दर्ज करवाए। इस मौके पर अतिरिक्त सचिव मनजीत कौर भी उपस्थित रहीं।

लक्खा का भाई भी हुआ था गिरफ्तार
दिल्ली में प्रदर्शन के दौरान लक्खा सिधाना के भाई मुंडी सिधाना को भी दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। सिधाना ने बताया कि दिल्ली पुलिस बिना स्थानीय पुलिस को बताए भाई को लेकर गई। इस बात की सूचना के बाद भी पंजाब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

पटियाला रेंज के अधिकारी होंगे तलब
समिति ने लक्खा सिधाना और अन्य युवा किसानों को आश्वासन दिया कि पटियाला रेंज के पुलिस अधिकारियों को एक सप्ताह में तलब किया जाएगा। पटियाला रेंज के आईजी और पटियाला के एसपी को जल्द इस बाबत सूचना भेजी जाएगी और सवाल किए जाएंगे।

Related posts