राम स्वरूप की मौत के मामले की हो सीबीआई जांच: विक्रमादित्य

राम स्वरूप की मौत के मामले की हो सीबीआई जांच: विक्रमादित्य

कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य ने कहा कि सांसद राम स्वरूप की जिस परिस्थिति में मौत हुई है उस पूरे प्रकरण की केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच होनी चाहिए। वह प्रदेश के एक सम्माननीय नेता थे। उन्होंने कहा कि इस बयान को राजनीति से जोड़ कर ना देखें। विक्रमादित्य ने सोशल मीडिया में पोस्ट डाल कर कहा है कि प्रदेशभर में इस घटना पर कई कयास लगाए जा रहे हैं, जिन्हें दूर करने के लिए निष्पक्ष जांच जरूरी है।

 
रामस्वरूप के निधन पर नहीं हो रहा विश्वास : शांता
वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार ने कहा कि रामस्वरूप शर्मा का निधन अत्यंत दुखद और एक महा आश्चर्य है। उन्हें न तो भरोसा हो रहा है और न ही कुछ समझ आ रहा है कि वह अब नहीं रहे। प्रभु उनकी आत्मा को शांति दें और परिवार को शक्ति दे। रामस्वरूप एक ईमानदार और परिश्रमी कार्यकर्ता थे। साधारण कार्यकर्ता से अपने परिश्रम के कारण लोकसभा के सांसद बने। दो महीने पहले उन्होंने पालमपुर कायाकल्प में 10 दिन तक उपचार करवाया। वह उन्हें मिले तो बिल्कुल सामान्य थे। मंगलवार को दिल्ली में दूरभाष पर उनकी रामस्वरूप से लंबी बातचीत हुई थी। शांता ने कहा कि भाजपा ने एक समर्पित परिश्रमी ईमानदार नेता को खो दिया। उनकी कमी कभी पूरी नहीं होगी।

Related posts