मणिमहेश यात्रा : मेडिकल जांच में स्वस्थ पाए जाने पर ही कर सकेंगे यात्रा : प्रशासन

मणिमहेश यात्रा : मेडिकल जांच में स्वस्थ पाए जाने पर ही कर सकेंगे यात्रा : प्रशासन

भरमौर (चंबा)
मणिमहेश यात्रा 19 अगस्त से दो सितंबर तक आयोजित होगी। वैश्विक महामारी के बाद इस बार पवित्र मणिमहेश यात्रा पर लाखों श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद है।

मेडिकल जांच में उपयुक्त श्रद्धालु ही पवित्र मणिमहेश यात्रा कर सकेंगे। चिकित्सक की ओर से प्रमाणित प्रमाण पत्र के आधार पर ही शिव भक्तों को यात्रा पर जाने की अनुमति मिलेगी। प्रशासनिक तौर पर यह यात्रा 19 अगस्त से दो सितंबर तक आयोजित होगी। एडीएम भरमौर निशांत ठाकुर की अगुवाई में एसडीएम भरमौर असीम सूद, नायब तहसीलदार और अन्य सरकारी विभागों की टीम मणिमहेश यात्रा से पूर्व व्यवस्थाओं का जायजा लेने बुधवार को भरमौर मुख्यालय पहुंची।

एडीएम भरमौर निशांत ठाकुर ने बताया कि अमरनाथ यात्रा के दौरान हुई त्रासदी को मद्देनजर रखते हुए नदी, नालों और खड्डों के किनारों पर लंगर और टेंट स्थापित नहीं होंगे। भरमौर प्रशासन ने शिव भक्तों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर विशेष कदम उठाए हैं। वैश्विक महामारी के बाद इस बार पवित्र मणिमहेश यात्रा पर लाखों श्रद्धालुओं के पहुंचने की उम्मीद है। हड़सर से पवित्र मणिमहेश डल झील तक के रास्तों की मरम्मत करवाकर धनछौ के पास पुलिया बनाकर दो रास्तों को जोड़ा जाएगा। इस बारे में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं।

पैदल मणिमहेश यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं को मिलेगा केरोसिन
पैदल मणिमहेश यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं को जिला खाद्य एवं आपूर्ति विभाग चंबा की ओर से केरोसिन उपलब्ध करवाया जाएगा। विभाग ने इसकी डिमांड निदेशालय को भेज दी है। दूसरी तरफ लंगर समितियों के लिए भी विभाग ने पहले ही एलपीजी की व्यवस्था कर रखी है। जिला खाद्य एवं आपूर्ति नियंत्रक विजय हमलाल ने इसकी पुष्टि की है।

Related posts