मंडी जिला के किसान ने उगाई यह खास तरह की फूल गोभी, जानिए इसके विशेष गुणों के बारे

मंडी जिला के किसान ने उगाई यह खास तरह की फूल गोभी, जानिए इसके विशेष गुणों के बारे

मंडी
कृषि विभाग जिला मंडी के उप निदेशक राजेश डोगरा ने बताया कि बल्ह के किसान ने गुलाबी और पीले रंग की गोभी उगाई है।

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में बल्ह घाटी के एक किसान ने स्विट्जरलैंड में पैदा होने वाली पीले और बैंगनी रंग की फूलगोभी उगाई है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह गोभी रोगों से लड़ने की क्षमता (इम्युनिटी) बढ़ाती है। गर्भवती महिलाओं के लिए भी यह बहुत उपयोगी है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट, न्यूट्रिशन, फास्फोरस, मैग्नीशियम, कैल्शियम और जिंक पाए जाते हैं, जो मानव शरीर के लिए जरूरी होते हैं।

सफेद रंग की गोभी के किसान को मात्र 30 से 40 रुपये प्रतिकिलो दाम मिल रहे हैं, जबकि पीले और बैंगनी रंग की गोभी के 60 से 80 रुपये प्रतिकिलो दाम मिल रहे हैं। इससे उनकी आर्थिकी मजबूत हो रही है। बल्ह घाटी के प्रगतिशील किसान दिनेश ने बताया कि उन्होंने करीब छह बीघा जमीन पर स्विट्जरलैंड की गोभी उगाई है। विदेश की एक कंपनी से बीज मंगवाया था। यू ट्यूब पर गोभी उगाने की विधि देखी। उसके बाद खुद उस पर काम किया और आज तीन प्रकार की सफेद, पीले और बैंगनी रंग की गोभी उगा रहा हूं।

किसानों को करेंगे प्रेरित
कृषि विभाग जिला मंडी के उप निदेशक राजेश डोगरा ने बताया कि बल्ह के किसान ने गुलाबी और पीले रंग की गोभी उगाई है। उससे विभाग की टीम संपर्क करेगी और इस गोभी की पैदावार को बढ़ाने के लिए अन्य किसानों को भी प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह गोभी इन्युनिटी बढ़ाती है। साथ ही पोषक तत्व होने से यह गर्भवती महिलाओं के लिए भी उपयोगी है।

Related posts