भारतीय वायु सेना में जिला कुल्लू के एक युवक और युवती का चयन बतौर फ्लाइंग अधिकारी देंगे सेवाए

भारतीय वायु सेना में जिला कुल्लू के एक युवक और युवती का चयन  बतौर फ्लाइंग अधिकारी  देंगे सेवाए

कुल्लू
कुल्लू की सैंज की शालिनी ठाकुर और अखाड़ा बाजार के हिमांशु ने एफकैट और एसएसबी परीक्षा प्रक्रिया को उत्तीर्ण किया है। डेढ़ साल का प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत यह दोनों कैडेट भारतीय वायु सेना में बतौर फ्लाइंग अधिकारी सेवाएं देंगे।

कुल्लू जिले के दो युवा भारतीय वायु सेना में फ्लाइंग अफसर बनेंगे। यह हैदराबाद स्थित एयर फोर्स अकादमी में प्रशिक्षण लेंगे। राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय कुल्लू के यह दोनों कैडेट इससे पहले एयरफोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट (एफकैट) और सर्विस सेलेक्शन बोर्ड (एसएसबी) परीक्षा प्रक्रिया में अपना हुनर दिखा चुके हैं। अब इनका चयन अकादमी में प्रशिक्षण के लिए हुआ है।

डेढ़ साल का प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत यह दोनों कैडेट भारतीय वायु सेना में बतौर फ्लाइंग अधिकारी सेवाएं देंगे। कुल्लू की सैंज की शालिनी ठाकुर और अखाड़ा बाजार के हिमांशु ने एफकैट और एसएसबी परीक्षा प्रक्रिया को उत्तीर्ण किया है। अब यह हैदराबाद में जुलाई माह के दूसरे सप्ताह से प्रशिक्षण लेंगे।

शालिनी ठाकुर ने साल 2021 में एफकैट परीक्षा दी और 30 जनवरी से तीन फरवरी 2022 तक सर्विस सेलेक्शन बोर्ड परीक्षा प्रक्रिया में भाग लिया, जबकि हिमांशु ने साल 2021 में एफकैट परीक्षा दी और इसी साल छह से 11 दिसंबर तक एसएसबी परीक्षा में हिस्सा लिया।

उधर, महाविद्यालय कुल्लू के एनसीसी एयर विंग के एएनओ फ्लाइंग अधिकारी निश्चिल शर्मा ने कहा कि शालिनी ठाकुर एनसीसी बैच 2015-18 में कैडेट सीनियर अंडर ऑफिसर और बैच 2018-21 में हिमांशु कैडेट अंडर ऑफिसर रहे हैं। दोनों का फ्लाइंग अधिकारी प्रशिक्षण के लिए चयन हुआ है।

हैदराबाद में 18 माह का प्रशिक्षण लेने के बाद यह वायु सेना में बतौर फ्लाइंग अधिकारी अपनी सेवाएं देंगे। शालिनी ठाकुर जिला कुल्लू के सैंज गांव की रहने वाली हैं। माता सपना ठाकुर गृहिणी हैं। वहीं, हिमांशु जिला मुख्यालय कुल्लू के वार्ड नंबर-दो अखाड़ा बाजार के रहने वाले हैं। इनके पिता उमेश शर्मा अकाउंटेंट हैं, जबकि माता कंचन शर्मा गृहिणी हैं।

Related posts