बर्फबारी से फिर बंद हुआ एनएच-22

शिमला। ताजा बर्फबारी से राष्ट्रीय राजमार्ग-22 बंद हो गया है। सोमवार सुबह साढ़े दस बजे नारकंडा और दोपहर ढाई बजे के बाद कुफरी से वाहनों की आवाजाही बंद हो गई। खड़ापत्थर में बर्फबारी के कारण ठियोग-हाटकोटी मार्ग भी ठप हो गया। खिड़की में हिमपात के चलते चौपाल मार्ग पर वाहनों की आवाजाही रुक गई है।
रविवार रात से ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हो रही बर्फबारी के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग सहित अन्य मार्गों पर वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई है। विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल कुफरी में सोमवार सुबह ही फाहे गिरने शुरू हो गए थे। दोपहर तक सड़क पर बर्फ जमना शुरू हो गई, जिस कारण वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई। सोमवार सुबह परिवहन निगम की बसें कोटखाई और देहा तक ही पहुंच सकीं। यहां से अधिकतर बसें वापस शिमला लौट आईं।

नाइट सर्विस वाया मशोबरा
बर्फबारी से ऊपरी शिमला के लिए नाइट बस सर्विस वाया मशोबरा चलाई गई। कुफरी और नारकंडा में बर्फबारी के कारण वाहनों की आवाजाही प्रभावित रही। सोमवार रात रामपुर और रिकांगपिओ रूट की बसें वाया मशोबरा रवाना की र्गइं।

एचआरटीसी की तीन बसें फंसीं
बर्फबारी के कारण एचआरटीसी की दो बसें सराहां व एक बस चौपाल में फंस गई है। खिड़की में भारी बर्फबारी के कारण चौपाल मार्ग पर वाहनों की आवाजाही ठप है। एचआरटीसी तारादेवी यूनिट के क्षेत्रीय प्रबंधक बेनी प्रसाद भरमौरी ने बताया कि सोमवार को शिमला से कोटखाई रूट पर पांच बसें भेजी गई हैं।

Related posts