बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या के बाद आरोपियों के घर तोड़फोड़, इलाके में तनाव

बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या के बाद आरोपियों के घर तोड़फोड़, इलाके में तनाव

दिल्ली
मंगोलपुरी में बजरंग दल कार्यकर्ता रिंकू शर्मा की हत्या के दूसरे दिन शुक्रवार को इलाके में माहौल तनावपूर्ण रहा। घटना से नाराज लोगों ने पीड़ित परिवार के साथ विरोध प्रदर्शन किया। इसी बीच कुछ लोगों ने आरोपियों के घर पहुंचकर तोड़फोड़ कर डाली। पुलिस ने इस मामले में पांचवें आरोपी ताशुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं, एहतियात के तौर पर पुलिस और अर्धसैनिक बल तैनात किया गया है। बुधवार रात के ब्लॉक, मंगोलपुरी में बजरंग दल कार्यकर्ता रिंकू शर्मा की चाकुओं से ताबड़तोड़ वारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस रिंकू के ही मोहल्ले में रहने वाले दूसरे समुदाय के चार आरोपियों को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी थी। 

उधर, रिंकू के परिजनों से सहानुभूति जताने के लिए उसके घर दिनभर नेताओं का तांता लगा रहा। हत्यारोपियों के दूसरे समुदाय से होने के कारण राजनीतिक दलों के साथ धार्मिक संगठनों के लोग भी उसके घर पहुंचने शुरू हो गए।

रिंकू के छोटे भाई मन्नू शर्मा ने बताया कि पिछले साल अगस्त में राममंदिर निर्माण को लेकर इलाके में मार्च निकाला गया था। इसमें रिंकू ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था। मार्च के बाद आरोपियों की रिंकू के परिजनों से कहासुनी हो गई थी। इसी रंजिश में वे हत्या की धमकी दे रहे थे। बुधवार रात आरोपी उसके घर पहुंचे और झगड़ने लगे। इस दौरान एक आरोपी ने रिंकू पर चाकू से ताबड़तोड़ हमले किए। उसे अस्पताल पहुंचाया, जहां बृहस्पतिवार सुबह मौत हो गई।

जन्मदिन की पार्टी के दौरान हुआ था विवाद: पुलिस
उधर, पुलिस का कहना है कि वारदात के पीछे धार्मिक आयोजन से जुड़ा विवाद नहीं है। एक रेस्तरां में जन्मदिन की पार्टी में आरोपी पक्ष और रिंकू दोनों शामिल थे। आरोपियों का एक रेस्तरां बंद हो गया था। इसका जिक्र किसी ने किया तो आरोपी पक्ष बिगड़ गया। विवाद रिंकू नहीं, बल्कि किसी और से हुआ था। रिंकू ने भी इस पर कोई टिप्पणी कर दी। तब तो दोनों पक्ष चले गए, लेकिन बाद में आरोपी रिंकू के घर झगड़ा करने पहुंच गए। इसी दौरान कहासुनी के बाद उसे चाकू मार दिया गया।

भाजपा ने की पांच लाख रुपये देने की घोषणा
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने रिंकू की हत्या की निंदा करते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। रिंकू के परिजनों को सांत्वना देते हुए उन्होंने पांच लाख रुपये की मदद देने का एलान किया। 

Related posts