पुलिस ने लुधियाना में हेरोइन के साथ भाई-बहन और पत्नी को दबोचा, 38 लाख की ड्रग मनी बरामद

पुलिस ने लुधियाना में हेरोइन के साथ भाई-बहन और पत्नी को  दबोचा, 38 लाख की ड्रग मनी बरामद

लुधियाना (पंजाब)
लुधियाना के गांव खंडूर में सोमवार को बड़े नाटकीय ढंग से एक नशा तस्करी का बड़ा रैकेट का खुलासा हुआ है। थाना जोधा पुलिस ने दो महिलाओं सहित तीन आरोपियों को काबू किया है। पुलिस ने आरोपियों से 38 लाख रुपये की ड्रग मनी, तीन किलो हेरोइन बरामद की है। थाना जोधा पुलिस ने तीनों आरोपियों को अपनी हिरासत में ले लिया है, वहां से उन्हें पूछताछ के लिए सीआईए स्टाफ जगरांव ले जाया गया है।  आरोपियों में एक व्यक्ति, उसकी बहन और पत्नी शामिल है।

गांव खंडूर में सोमवार को किसी महिला की मौत हो गई थी। कुछ महिलाएं सांत्वना व्यक्त करने के बाद लौट रहीं थीं। इस दौरान एक्टिवा सवार ने एक महिला को टक्कर मार दी। एक्टिवा आरोपी व्यक्ति चला रहा था, उसके पीछे उसकी पत्नी बैठी थी। एक्टिवा में आगे एक बैग रखा था। इस घटना में महिला की टांग टूट गई। 

हंगामा होने पर गांव के लोग मौके पर पहुंचे। गांव के पंच जसवीर सिंह ने बताया कि जैसे वह मौके पर पहुंचे तो तीसरी आरोपी बहन वहां पहुंच गई। उसने अपने भाई को पीटने का ड्रामा करना शुरू कर दिया। अचानक वह स्कूटर पर रखा बैग उठाकर साथ ले जाने लगी तो उन्हें कुछ शक हो गया। 

उन्होंने उससे बैग छीन लिया, जब चेक किया तो उसमें 25 लाख रुपये थे। उन्होंने पहले इसकी सूचना सीएम सलाहकार कैप्टन संदीप संधू को दी। संधू ने तुरंत एसएसपी ग्रामीण को कार्रवाई करने को कहा। कुछ समय बाद एसपी (देहात) बलविंदर सिंह सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। उन्होंने आरोपियों के घर की तलाशी ली। घर से पुलिस ने लगभग तीन किलो हेरोइन और 13 लाख रुपये बरामद किए। 

पंच जसवीर सिंह पप्पू ने बताया की गांव के युवाओं को आरोपियों की संदिग्ध हरकतों पर पहले ही शक था, कई बार उनका पीछा भी किया गया। लेकिन पता नहीं चल रहा था कि आखिरकार वह कहां रहते है। अब पता चला कि वह बीते दो माह से गांव के बाहर सुनसान जगह पर बने किराए के घर में रहते है। यह घर जांगपुर निवासी गुरजीत सिंह का है, जोकि आरएमपी डॉक्टर हैं। पुलिस उसे भी पूछताछ के लिए अपने साथ ले गई है।

Related posts