पठानकोट में भी दिखा पाकिस्तानी ड्रोन, बीएसएफ ने की फायरिंग

पठानकोट में भी दिखा पाकिस्तानी ड्रोन, बीएसएफ ने की फायरिंग

गुरदासपुर/पठानकोट (पंजाब)
सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने एक बार फिर पाकिस्तान की नापाक हरकत को नाकाम कर दिया। मंगलवार रात गुरदासपुर और पठानकोट में पाक ड्रोन दिखे। बीएसएफ ने फायरिंग कर उन्हें भगाया।गुरदासपुर सेक्टर में भारतीय सीमा में घुस रहे पाक ड्रोन पर बीएसएफ जवानों ने फायरिंग कर लौटने पर मजबूर कर दिया। पहले ड्रोन ने बीओपी बोहड़ वडाला की सीमा से और दूसरी बार बीओपी कांस्य बरमन से घुसने की कोशिश की। घटना के बाद बीएसएफ के डीआईजी प्रभाकर जोशी मौके पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया। 

डीआईजी प्रभाकर जोशी ने बताया कि बीएसएफ की 89 बटालियन बीओपी बोहड़ वडाला की सीमा पर तैनात महिला कांस्टेबल प्रियंका व पुष्पा ने पाक ड्रोन पर 29 फायर किए। उसके बाद बीओपी कांस्य बरमन में भी बीएसएफ की 121 बटालियन के जवानों ने ड्रोन को भारतीय सीमा में दाखिल करने की कोशिश को नाकाम कर दिया। दोनों घटनाओं के बाद बटालियन कमांडेंट प्रदीप कुमार और बीएसएफ के जवानों ने इलाके की छानबीन की। पिछले महीने पंजाब के गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक में भारत-पाकिस्तान बॉर्डर के पास एक और ड्रोन देखा गया था। दो दिन पहले जम्मू के फालियन मंडल इलाके में ड्रोन ने कई हथियार गिराए थे। 

पठानकोट में जारी है सर्च ऑपरेशन
वहीं पठानकोट में भारत-पाकिस्तान सीमा से सटे बमियाल सेक्टर बीएसएफ की चौकी जयपुर के पास देर रात को पाकिस्तानी ड्रोन दिखाई दिया। सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने फायरिंग की हालांकि ड्रोन वापस चला गया या मार गिराया गया इसको लेकर संशय बना हुआ है। बुधवार तड़के साढ़े चार बजे से सीमा सुरक्षा बल और पठानकोट पुलिस के अधिकारी कर्मचारी सर्च ऑपरेशन चला रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक मंगलवार को सीमा सुरक्षा बल की चौकी जैतपुर और काशी बाड़वां के बीच रात नौ बजे के बाद जमीन से 600 मीटर की ऊंचाई पर बीएसएफ के जवानों को सफेद और लाल लाइट दिखाई दी। बीएसएफ के जवानों ने चार से पांच राउंड फायर किए। उसके बाद से अचानक लाइट बंद हो गई। घटनास्थल पर बीएसएफ ने उसी समय जवानों की तैनाती की और सुबह तड़के साढ़े 4 बजे से लगातार सर्च ऑपरेशन जारी है। सूचना में के मुताबिक सुबह नौ बजे तक वहां कोई भी संदिग्ध सामान बरामद नहीं हुआ है। अधिकारियों का कहना है कि आज सर्च ऑपरेशन जारी रहेगा।

सीएम ने गृहमंत्री से की थी सीमा सील करने की मांग
वहीं पंजाब में सरहद पार से नशे और हथियारों की अवैध तस्करी रोकने के लिए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से निजी दखल देने की मांग करते हुए सरहद सील करने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर को फिर से खोलने और किसानों के मुद्दे को जल्द सुलझाने की भी अपील की। 

श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर को फिर से खोलने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री ने शाह से कहा कि इस संबंध में जल्द ही कोई फैसला लिया जाए, ताकि श्रद्धालु इस पवित्र स्थान के दर्शन कर सकें। इस पर अमित शाह ने उन्हें यकीन दिलाया कि वे विस्तार से चर्चा करने के बाद कॉरिडोर खोलने संबंधी फैसला लेंगे। 

Related posts