पंजाब में हमले को बर्दाश्त नहीं करेंगे, जीवनभर का सबक सिखाएंगे : अमरिंदर सिंह

पंजाब में हमले को बर्दाश्त नहीं करेंगे, जीवनभर का सबक सिखाएंगे : अमरिंदर सिंह

चंडीगढ़

आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पाकिस्तान पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि हम अपने क्षेत्र में किसी भी तरह की आक्रामकता या हमले को बर्दाश्त नहीं करेंगे। अगर वे साहसी बनने की कोशिश करेंगे तो हम उन्हें (पाकिस्तान को) उनके जीवनभर का सबक सिखाएंगे। 75वें स्वतंत्रता दिवस पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के नापाक मंसूबों से सीमावर्ती राज्य पंजाब की रक्षा की कसम खाई। यहां तक कि उन्होंने केंद्र के ‘काले कृषि कानूनों’ को निरस्त करने के लिए किसानों के साथ लड़ाई जारी रखने का संकल्प लिया।

45 व्यक्तियों को किया सम्मानित
इस दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 45 व्यक्तियों को समाज में उनके बहुमूल्य योगदान और सेवाओं के लिए एक प्रमाण पत्र, शॉल और एक पदक के साथ राज्य पुरस्कार से सम्मानित किया। सीएम ने सब-इंस्पेक्टर जसवीर सिंह को मुख्यमंत्री रक्षक पदक भी प्रदान किया।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सहायिकों का मानदेय बढ़ाया
स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने आंगनबाडी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं के मासिक मानदेय को 300 रुपये से बढ़ाकर 500 रुपये करने की घोषणा की। उन्होंने लिंक सड़कों के निर्माण और नई परियोजनाओं पर 1,200 करोड़ रुपये खर्च करने का एलान किया।

पंजाब सरकार जल्द ही एक सार्वभौमिक स्वास्थ्य बीमा शुरू करेगी। इसके अलावा डायलिसिस और एक्स-रे की सुविधा सरकारी अस्पतालों में मुफ्त उपलब्ध होगी। पंजाब निर्माण कार्यक्रम के तहत 11,70 करोड़ रुपये खर्च कर प्रदेश में बुनियादी ढांचों का विकास किया जाएगा। 

Related posts