निरीक्षण में 14 शिक्षक-शिक्षिकाएं गैरहाजिर

बाह। महीनों से स्कूलों से गैरहाजिर चल रही शिक्षिकाओं का मामला उजागर होने के बाद खंड शिक्षा अधिकारी ने ताबड़तोड़ छापेमारी की। इस दौरान उन्हें कहीं स्कूलों पर ताले लटके मिले तो कहीं शिक्षिकाएं गैरहाजिर मिलीं।
अमर उजाला की खबर के प्रकाशन के बाद बुधवार को खंड शिक्षा अधिकारी बाह ललित मोहन पाल ने स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। प्राथमिक विद्यालय मई में शिक्षक सौरभ यादव, शिक्षिक शालिनी सिंह गैरहाजिर मिलीं। प्राथमिक विद्यालय बटेश्वर में सहायक अध्यापिका सोनाक्षी ने एक नवंबर को ज्वाइन करने के बाद स्कूल नहीं पहुंची, जबकि सुब्रीना गैरहाजिर मिलीं। प्राथमिक विद्यालय झांड़े की गढ़ी में सात नवंबर से कविता सिंह गैरहाजिर मिलीं, जबकि प्राथमिक विद्यालय धोबई में शिक्षिका 17 नवंबर से गैरहाजिर थीं। पूर्व माध्यमिक विद्यालय अभयपुरा में शिक्षिका अदिति शर्मा और वंदना सिंह गैर हाजिर मिलीं। पूर्व माध्यमिक विद्यालय सन्नपुरा में दुर्गा भाटिया 10 नवंबर से गायब थीं। प्राथमिक विद्यालय सन्नपुरा अजब नजारा था। तीन शिक्षिकाएं गीता, राखी गुप्ता, राजबाला गैरहाजिर थीं। शिक्षामित्र शिवबाला पढ़ा रही थीं। प्राथमिक विद्यालय गौंसिली पर ढाई बजे ताला लटका था। पूर्व माध्यमिक विद्यालय गौंसिली में शिक्षिका शशीबाला 5 नवंबर से, प्रीती गुप्ता 17 नवंबर से गैरहाजिर थीं। खंड शिक्षा अधिकारी ने सभी गैरहाजिर शिक्षक-शिक्षिकाओं को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। निरीक्षण की रिपोर्ट बेसिक शिक्षा अधिकारी को भेजी है।

Related posts

Leave a Comment