नकली दवा के गोरखधंधे की तलाश के लिए तोड़े गए ताले, निशानदेही पर चल रही जांच

नकली दवा के गोरखधंधे की तलाश के लिए तोड़े गए ताले, निशानदेही पर चल रही जांच

मोहित बंसल से पुलिस की पूछताछ में कई जानकारियां मिली हैं। वह बिना बिल के भी दवाओं की कालाबाजारी करता था। अब औषधि विभाग उससे दवाएं खरीदने वाले दवा विक्रेताओं की जानकारी जुटा रहा है।

नकली दवा बनवाकर बेचने के मामले में हिमाचल प्रदेश में पकड़े गए मोहित बंसल की तीन दिन की रिमांड के बाद आज टीम आगरा पहुंची। टीम ने फव्वारा स्थित एक मेडिकल स्टोर के ताले तोड़े। टीम के साथ मोहित भी मौजूद है। टीम मेडिकल स्टोर में दवाओं की जांच कर रही है।

बता दें कि मोहित बंसल ले पुलिस की पूछताछ में कई जानकारियां मिली हैं। वह बिना बिल के भी दवाओं की कालाबाजारी करता था। अब औषधि विभाग उससे दवाएं खरीदने वाले दवा विक्रेताओं की जानकारी जुटा रहा है। बता दें हिमाचल प्रदेश के बद्दी का औषधि विभाग और पुलिस नकली दवाएं बनाने और बेचने वाले गैंग के सरगना मोहित बंसल कमला नगर का रहने वाला है। पूछताछ में उसने बताया है कि वह नामीगिरामी कंपनियों के नाम से बद्दी में ही नकली दवाएं बनवाता था।

इन दवाओं को आगरा स्थित अपने मेडिकल स्टोर के अलावा गोदाम से भी बेचता था। वह बिना बिल के दवाओं की बिक्री करता था। मोटा कमीशन मिलने के कारण कई दवा विक्रेता भी इससे दवाएं खरीदते थे। कहां-कहां दवाएं बेचता था, किन-किन जिलों में इनको खपाया जा रहा है। इन सभी की जानकारी जुटाई जा रही है। यहां भी कई दुकानदारों से पूछताछ की है, मोहित बंसल के आगरा रिमांड पर लेने के बाद पुख्ता जानकारी मिलेगी।

Related posts