नकली करेंसी के साथ छह लोग गिरफ्तार, स्कॉर्पियो समेत तीन वाहन जब्त

नकली करेंसी के साथ छह लोग गिरफ्तार, स्कॉर्पियो समेत तीन वाहन जब्त

कपूरथला (पंजाब)
पंजाब की कपूरथला पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने नकली मुद्रा छापने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया। वहीं विशेष ऑपरेशन के दौरान छह लोगों को गिरफ्तार भी किया। वहीं 2000 और 500 रुपये के नकली नोट के रूप में 1.47 लाख रुपये की राशि बरामद की है। पुलिस ने नकली नोट बनाने में प्रयुक्त होने वाले रसायनयुक्त कागज के 30 पैकेट, रसायन और रंगों से भरी बोतलें और रासायनिक पाउडर के पैकेट और नकली मुद्रा को वितरित करने वाले तीन वाहनों को जब्त किया है।

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान परगट सिंह निवासी राजेवाल खन्ना, हरप्रीत कौर उर्फ प्रीति निवासी मुल्लांपुर सरहिंद, चरनजीत सिंह उर्फ चन्ना व मोहिंदर कुमार दोनों निवासी भंडाल बेट, पवन कुमार सेठी और खन्ना सिटी निवासी गुरविंदर सिंह गुरी के रूप में हुई है। एसएसपी हरकमलप्रीत सिंह खख ने बताया कि सुभानपुर थाने की पुलिस टीम को सूचना मिली कि एक स्कॉर्पियो कार में परगट सिंह और हरप्रीत कौर नाम की महिला दोगुने पैसे का लालच देकर नकली नोट बांट रहे हैं। 

भुलत्थ के एएसपी अजय गांधी की निगरानी में एसएचओ थाना सुभानपुर और अन्य कर्मचारियों की एक टीम गठित की गई। पुलिस दल ने नडाला से सुभानपुर रोड पर विशेष चेक पोस्ट बनाकर स्कॉर्पियो को चेकिंग के लिए रोका, तलाशी के दौरान पुलिस को 2000 रुपये का एक नोट बरामद हुआ। इसके अलावा 7500 रुपये की भारतीय मुद्रा, केमिकल से भरी बोतल, 20 ग्राम वजन का पाउडर का एक पैकेट, 500 और 2000 के नकली नोट बनाने प्रयुक्त होने वाला कागज बरामद हुआ।

एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि उनके गिरोह के कुछ और सदस्य भी अलग-अलग वाहनों में लोगों को नकली नोट बांट रहे हैं। पुलिस ने अन्य आरोपियों की धरपकड़ के लिए दबिश तेज कर दी, जिससे एक महिंद्रा मैक्सिको वाहन से चरनजीत सिंह चन्ना और महिंदर कुमार को पकड़ लिया और नकली नोट बनाने में इस्तेमाल होने वाला कागज जब्त किया। इसी तरह पुलिस ने दयालपुर फ्लाईओवर के पास एक वरना कार को भी रोककर पवन कुमार उर्फ सेठी और गुरविंदर सिंह गुरी को गिरफ्तार कर लिया और 2000 रुपये के 60 नकली नोट और 500 रुपये के 50 नकली नोट जब्त कर लिए। 

पुलिस ने इन आरोपियों के खिलाफ थाना सुभानपुर में मामला दर्ज किया है। पूछताछ के दौरान इस रैकेट के 11 और सदस्यों की संलिप्तता सामने आई है और इन आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस टीमों को रवाना किया गया है।

Related posts