तकनिकी शिक्षा : इन पांच आईटीआई में शुरू होंगे ड्रोन की मरम्मत के कोर्स

तकनिकी शिक्षा : इन पांच आईटीआई में शुरू होंगे ड्रोन की मरम्मत के कोर्स

शिमला
सरकार ने ड्रोन की मरम्मत के लिए आईटीआई में कोर्स शुरू करने का फैसला लिया है। ड्रोन टेक्नीशियन कोर्स के तहत प्रशिक्षुओं को ड्रोन के हर पार्ट की मरम्मत करवाना सिखाया जाएगा। प्रशिक्षण लेने के बाद प्रशिक्षु अपना कारोबार खोल सकेंगे।

हिमाचल प्रदेश के पांच औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (आईटीआई) में ड्रोन की मरम्मत के कोर्स शुरू होंगे। मंडी, राजगढ़, नालागढ़, चंबा और सोलन में तीन माह का प्रशिक्षुओं को कोर्स करवाने की तैयारी है। आईटी विभाग ने इस बाबत भारत सरकार को प्रस्ताव भेजा है। मंजूरी मिलते ही इन पांच आईटीआई में 300 प्रशिक्षुओं का बैच बैठाया जाएगा।

प्रदेश सरकार ने कांगड़ा के शाहपुर में ड्रोन प्रशिक्षण केंद्र खोला है। यहां ड्रोन चलाने के लिए छह माह प्रशिक्षण दिया जाता है। प्रशिक्षण लेने वालों को लाइसेंस जारी किया जाता है। सरकार ने ड्रोन चलाने के लिए लाइसेंस लेना अनिवार्य कर दिया है। बिना लाइसेंस के ड्रोन चलाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का प्रावधान किया गया है।

इसी कड़ी में सरकार ने अब ड्रोन की मरम्मत के लिए आईटीआई में कोर्स शुरू करने का फैसला लिया है। ड्रोन टेक्नीशियन कोर्स के तहत प्रशिक्षुओं को ड्रोन के हर पार्ट की मरम्मत करवाना सिखाया जाएगा। प्रशिक्षण लेने के बाद प्रशिक्षु अपना कारोबार खोल सकेंगे।

प्रदेश में अभी ड्रोन की मरम्मत के लिए बाहरी राज्यों में ही जाना पड़ता है। चार-पांच माह के बाद प्रदेश में ही ड्रोन चलाने वालों को मरम्मत करवाने की सुविधा भी प्रदेश में ही मिल जाएगी। प्रधान सचिव आईटी डॉ. रजनीश ने बताया कि भारत सरकार से मंजूरी मिलते ही कोर्स शुरू कर दिया जाएगा।

Related posts