छह माह के भीतर सभी अस्पतालों को लगाना होगा ऑक्सीजन प्लांट : स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

फैसला : हरियाणा में छह माह के भीतर सभी अस्पतालों को लगाना होगा ऑक्सीजन प्लांट : स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज

चंडीगढ़
हरियाणा सरकार ने 50 बेड से अधिक क्षमता वाले सभी अस्पतालों को अपना ऑक्सीजन प्लांट लगाना अनिवार्य कर दिया है। इस बात की जानकारी हरियाणा के गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने दी। उन्होंने कहा कि कोरोना के अनुभवों के आधार पर यह फैसला लिया गया है। हरियाणा में अब नए अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट लगाने के बाद ही अनुमित मिलेगी। वहीं सभी पुराने अस्पतालों को ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए छह माह का समय दिया गया है।

विज ने कहा कि कई-कई सौ करोड़ के प्राइवेट अस्पतालों को बनाने वालों को यह ध्यान रखना चाहिए कि ऑक्सीजन प्लांट होना चाहिए। मगर जिन लोगों ने इन आदेश का उल्लंघन किया तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की अभी कमी है। 

वर्तमान में हरियाणा में 300 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है जबकि उन्हें 252 मीट्रिक टन ही मिल रही है। इसके अलावा कुछ अन्य तकनीकी दिक्कतें भी पेश आ रही हैं। दो दिन पहले रुड़की में ऑक्सीजन प्लांट में दिक्कतें आ गई थी। कई बार ऑक्सीजन ट्रांसपोर्टेशन में भी दिक्कतें हो जाती हैं। सभी दिक्कतों के बावजूद सरकार प्रदेश में ऑक्सीजन मुहैया करवाने की हर संभव कोशिश कर रही है।

140 संक्रमितों की मौत, 12855 नए केस
हरियाणा में सोमवार 12855 नए संक्रमित मिले और 140 की मौत हुई। राहत की बात यह रही कि एक दिन में 13293 लोग कोरोना को मात देकर अस्पतलों से अपने घर लौटे। चिंता यह है कि अभी 1425 मरीजों की हालत गंभीर बनी हैं। इनमें से 1209 ऑक्सीजन और 216 वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं। 

सक्रिय मरीजों की संख्या 104722 पहुंच गई है। 
संक्रमण दर 7.02 फीसदी और रिकवरी दर 79 प्रतिशत है। बीते 24 घंटे में हिसार 17, रोहतक 16, फतेहाबाद 15, करनाल व महेंद्रगढ़ 11-11, अंबाला 10, पानीपत, कैथल व गुरुग्राम 9-9, भिवानी 7, जींद कुरुक्षेत्र 5-5, सिरसा, पंचकूला, फरीदाबाद व सोनीपत 4-4 मरीजों की जान गई। संक्रमण से प्रदेश में अब तक 4620 लोगों की मौत हो चुकी है।

Related posts