घागस में अब नए पुल पर दौड़ेंगे वाहन

बिलासपुर। 5.81 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित घागस पुल पर अब वाहन दौड़ सकेंगे। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने नव निर्मित पुल का शनिवार को उद्घाटन कर जनता को समर्पित किया। अब घागस में अकसर लगने वाले जाम से निजात मिल जाएगी। यहां से शिमला, चंढीगढ़ और हमीरपुर की ओर जाने वाले वाहन एकत्रित हो जाते हैं, जिससे कई बार जाम की समस्या खड़ी हो जाती है।
इसके बाद मुख्यमंत्री ने चंगर सेक्टर में 1.68 करोड़ की लागत से बने अटार्नी भवन का भी उद्घाटन किया। लुहणू मैदान में उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए नलवाड़ी मेले की बधाई दी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने ही इस मेले को राज्य स्तर का दर्जा दिया था। उन्होंने कहा कि बिलासपुर शहर के लिए 21.55 करोड़ रुपये की मल निकासी योजना स्वीकृत की गई है। इसके लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य प्रगति पर है। इसके अलावा 64.66 करोड़ रुपये की कोलडैम उठाऊ पेयजल योजना का कार्य भी प्रगति पर है। इस योजना के बनने से सदर, घुमारवीं तथा नैनादेवी चुनाव क्षेत्रों को जोड़ा जाएगा। इसका लगभग 65 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। इस वर्ष के अंत तक यह परियोजना पूरी हो जाएगी। उन्होंने कहा कि मेले हमारी सांस्कृतिक धरोहर हैं। इन्हें संजोए रखने के लिए युवा पीढ़ी को आगे आना होगा। इस अवसर पर बीस सूत्रीय कार्यक्रम एवं क्रियान्वयन समिति के अध्यक्ष राम लाल ठाकुर, मुख्य संसदीय सचिव राजेश धर्माणी, स्थानीय विधायक बंबर ठाकुर, पूर्व विधायक बाबू राम गौतम, डा. बीरू राम किशोर, तिलक राज शर्मा, प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारी एवं अन्य गण्यमान्य व्यक्ति भी उपस्थित थे।

इनसेट के लिए—
जिला बार एसोसिएशन की मुख्यमंत्री से भेंट
बिलासपुर। जिला बार एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने अध्यक्ष तेजस्वी शर्मा की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री से भेंट कर अपनी समस्याएं रखीं। एसोसिएशन ने मांग की कि वकीलों के चैंबर के निर्माण के लिए धनराशि उपलब्ध करवाई जाए। इसके लिए भूमि का चयन कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि लगभग सभी जिलों से यह मांग आ रही है। सरकार इस पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी।

Related posts