गठबंधन: पंजाब में पीएम मोदी व शाह करेंगे प्रचार, अमरिंदर सिंह और सुखदेव ढींडसा भी संभालेंगे कमान

गठबंधन: पंजाब में पीएम मोदी व शाह करेंगे प्रचार, अमरिंदर सिंह और सुखदेव ढींडसा भी संभालेंगे कमान

चंडीगढ़
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह जल्द पंजाब में चुनाव प्रचार शुरू करेंगे। गठबंधन सहयोगी कैप्टन अमरिंदर सिंह और सुखदेव सिंह ढींडसा भी प्रचार की कमान संभालेंगे।

पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर त्रिकोणीय गठबंधन (भाजपा, पीएलसी और शिअद संयुक्त) प्रचार के लिए भी तैयार हो गया है। प्रचार की कार्ययोजना को सर्वसम्मति से अंतिम रूप दे दिया गया है। प्रचार के दौरान फिरोजपुर की घटना के बाद अब एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सूबे में प्रचार के लिए आएंगे। उनके साथ गृह मंत्री अमित शाह भी मौजूद रहेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और शिअद संयुक्त के प्रमुख सुखदेव सिंह ढींडसा भी प्रचार में अहम भूमिका निभाएंगे।

त्रिकोणीय गठबंधन का यह चुनाव प्रचार कम हो रहे कोरोना संक्रमण के कारण भारत निर्वाचन आयोग द्वारा छूट दिए जाने के बाद 10 फरवरी से शुरू होने की संभावना है। गठबंधन के चुनाव प्रचार की रूपरेखा की जानकारी पूर्व मुख्यमंत्री और पीएलसी प्रमुख कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक चुनावी कार्यक्रम के दौरान दी है। कैप्टन ने कहा है कि त्रिकोणीय गठबंधन प्रचार के लिए पूरी तरह से तैयार है। प्रचार के दौरान भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के सभी नेताओं के साथ वह पंजाब में घूम-घूम कर प्रचार करेंगे। इसके लिए पूरी कार्ययोजना तैयार हो गई है। जल्द ही इसकी घोषणा भी सार्वजनिक कर दी जाएगी।

20 फरवरी को होने वाले मतदान में गठबंधन के सभी प्रत्याशियों को अच्छे परिणाम मिलने वाले हैं। पिछली बार पांच जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फिरोजपुर में हाईवे बंद होने और सुरक्षा में हुई चूक के बाद बिना रैली के ही लौटना पड़ा था। वह खराब मौसम के कारण बठिंडा से सड़क मार्ग के जरिये फिरोजपुर जा रहे थे। फिरोजपुर के गांव प्यारेआणा में हाईवे ब्लॉक होने की वजह से उन्हें 20 मिनट फ्लाईओवर पर रुककर लौटना पड़ा। इसके बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सुरक्षा चूक की बात कही थी।

गृह मंत्रालय ने जताई थी आपत्ति
इस घटना के बाद एयरपोर्ट आकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी पंजाब के अधिकारियों को कहा था कि अपने मुख्यमंत्री को धन्यवाद कहना, मैं बठिंडा एयरपोर्ट जिंदा लौट आया हूं। इसके बाद से प्रधानमंत्री की सुरक्षा चूक पर पंजाब पुलिस और केंद्रीय एजेंसियां घिरी हुई हैं। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर सेवानिवृत्त जस्टिस इंदु मल्होत्रा की अध्यक्षता वाली कमेटी जांच कर रही है।

सतर्क हुईं सुरक्षा एजेंसियां
फिरोजपुर घटना के बाद प्रधानमंत्री के पंजाब आगमन की सूचना पर फिर से सुरक्षा एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। हालांकि अभी इसकी केंद्रीय गृह मंत्रालय से कोई आधिकारिक सूचना नहीं जारी की गई है। इसके बाद भी पंजाब पुलिस और स्थानीय खुफिया एजेंसियों के अधिकारियों ने कार्ययोजना बनानी शुरू कर दी है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा पंजाब पुलिस के लिए सर्वोपरि है। इसके लिए वह पूरी तरह से तैयार हैं।

Related posts