कोरोना संकट काल में ऑक्सीजन के रेट बढ़ाने की तैयारी

कोरोना संकट काल में ऑक्सीजन के रेट बढ़ाने की तैयारी

शिमला
हिमाचल प्रदेश में कोरोना संकट काल में ऑक्सीजन के रेट बढ़ाने की तैयारी की जा रही है। ऑक्सीजन बनाने वाले प्लांट के मजदूरों के वेतन में 70 फीसदी तक वृद्धि हो चुकी है। इसलिए उत्पादक अब 25 फीसदी तक ऑक्सीजन का रेट बढ़ाएंगे। खाली सिलिंडरों का संकट बरकरार है और रिफिलिंग के लिए लोग सिलिंडर वापस नहीं ला रहे। लोगों ने आपात स्थिति के लिए घरों में ऑक्सीजन से भरे सिलिंडर जमा कर रखे हैं।  

वैसे तो प्लांटों से ऑक्सीजन की आपूर्ति उन लोगों को सिलिंडरों में भर की जा रही है, जो कोरोना के चलते होम क्वारंटीन हैं। अन्य उद्योगों को भी ऑक्सीजन की आपूर्ति की जाती है। उद्योगों में कटिंग आदि कार्यों के लिए ऑक्सीजन की जरूरत रहती है। उद्योगपति बताते हैं कि मजदूरी पहले 11 से 12 हजार रुपये प्रति थी, जो अब बीस हजार प्रति माह है। मजदूरों को रिफ्रेशमेंट और भोजन भी देना पड़ रहा है। दो शिफ्टों में ऑक्सीजन तैयार हो रही है। पहले छह सौ सिलिंडर स्टाक में रहते थे, अब 70-80 सिलिंडर ही हैं।

Related posts