किसानों को नहीं मिल रहा बीज

अंबेडकरनगर। जिले में किसानों की समस्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। कभी खाद के लिए उन्हें परेशान होना पड़ता है, तो कभी बीज के लिए उन्हें भटकने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। किसानों को केंद्र व राज्य सरकारों द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए अधिकारी कितना गंभीर हैं, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि मौजूदा समय में अनुदान पर किसानों को मिलने वाले गेहूं के बीज का वितरण सुचारु तरीके से नहीं हो पा रहा है। नतीजतन किसानों को मजबूर होकर प्राइवेट दुकानों से अधिक दाम पर बीज खरीदने के लिए विवश होना पड़ रहा है।
मौजूदा समय में गेहूं की बुआई का कार्य चल रहा है। बुआई का यह कार्य मुख्य रूप से दिसंबर के मध्य तक चलना है। अच्छी प्रजाति के गेहूं की फसल को लेकर बीते दिनों राजकीय कृषि बीज भंडार अकबरपुर को 5 हजार 680 कुंतल पीबीडब्लू 502, 590, 16, 17, 550, 509 व 373 तथा डब्लूएच 711 जातियों का बीज उपलब्ध कराया गया था। यह बीज किसानों को अनुदान पर दिलाने का निर्देश दिया गया। यह बीज राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन भारत शासन द्वारा प्रति कुंतल 500 रुपये तथा राज्य सरकार द्वारा 10 वर्ष तक संशोधित प्रजाति पर 400 तथा 10 से 15 वर्ष तक संशोधित प्रजाति पर 200 रुपये का अनुदान देने का प्रावधान है। केंद्रीय बीज भंडार प्रभारी हरिनाथ सिंह ने बताया कि सभी विकास खंडों में किसानों के लिए सभी प्रजातियों के बीज उपलब्ध करा दिए गए हैं। उधर इस दावे के बावजूद किसानों को अनुदान पर गेहूं के बीज आसानी से नहीं मिल पा रहे हैं। सोमवार को अमर उजाला प्रतिनिधि जब राजकीय कृषि बीज भंडार अकबरपुर पहुंचा, तो एक दर्जन से अधिक किसान बीज के लिए परिसर के आसपास भटकते दिखाई दिए। पूछने पर सोनगांव के किसान मेवालाल व जगदीश प्रसाद ने बताया कि गेहूं की बुआई का कार्य बीते 15 नवंबर से हो रहा है, लेकिन अभी तक उन्हें अनुदान पर बीज नहीं मिल पाया है। लालापुर के निन्हूं व भोला ने बताया कि 15 दिसंबर तक ही मुख्यत: गेहूं की बुआई का कार्य चलना है। बताया कि वैसे तो गेहूं का बीज 2450 रुपये प्रति कुंतल मिलता है, लेकिन यहां 700 से 900 रुपये का अनुदान मिल जाता है। इससे उन्हें कुछ राहत मिल जाती है। वह बीते चार दिन से बीज भंडार का चक्कर लगा रहा है, लेकिन यहां आने पर उसे मायूसी ही हाथ आ रही है। कहा कि लगता है कि प्राइवेट दुकान से ही बीज खरीदना पड़ेगा। हालांकि राजकीय कृषि बीज भंडार के स्टोर प्रभारी रामसकल वर्मा के अनुसार उनके द्वारा प्रतिदिन अनुदानित बीज वितरण का कार्य किया जाता है। अब तक 837 किसानों में 2 हजार 510 बोरी अनुदानित बीज का वितरण किया गया है। बताया कि बैंक में जाने के चलते सोमवार को साढ़े 11 बजे के बाद वितरण का कार्य प्रारंभ किया गया।

Related posts

Leave a Comment