करंट की चपेट में आया स्कूली छात्र

धर्मशाला। उपमंडल धर्मशाला के एक निजी स्कूल का छात्र करंट से बुरी तरह झुलस गया। गंभीर रूप से घायल छात्र को उपचार के लिए क्षेत्रीय अस्पताल धर्मशाला लाया गया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद घायल छात्र को डा. राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कालेज अस्पताल टांडा के लिए रेफर कर दिया गया। घायल छात्र की पहचान तेंजिन गुरुंग (15) निवास दाड़ी के रूप में हुई है।
बताया जा रहा है कि घायल छात्र निजी स्कूल में नवीं कक्षा में पढ़ता है। सूचना मिलते ही पुलिस स्टेशन धर्मशाला की टीम क्षेत्रीय अस्पताल धर्मशाला पहुंची। यहां पर घायल छात्र की मेडिकल रिपार्ट का इंतजार किया जा रहा है। एसएचओ धर्मशाला देसराज चंद्रोटिया ने मामले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि पुलिस दल धर्मशाला अस्पताल में भेजा था लेकिन घायल छात्र बयान देने की स्थिति में नहीं है। एसएचओ ने बताया कि स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद ही पीड़ित छात्र का बयान लिया जाएगा।
पुलिस जानकारी के अनुसार पीड़ित तेंजिन गुरुंग रोजाना की तरह सोमवार को स्कूल गया हुआ था। स्कूल भवन के साथ ही बिजली की तारें गुजरती हैं। बच्चे ने बिजली की इन तारों को हाथ लगा दिया। हाई वोल्टेज की इन तारों की चपेट में आने से वह बुरी तरह घायल हो गया। वहीं, स्कूल परिसर में इस तरह की लापरवाही से बच्चों की सुरक्षा को लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं।
निजी स्कूल के प्रिंसिपल ने बताया कि स्कूल प्रशासन ने बिजली बोर्ड को इन तारों के संदर्भ में कई बार अवगत करवाया है। इसके बाद बिजली बोर्ड ने तारों पर प्लास्टिक की पाइप का कवर लगाया। सोमवार को बिजली की नंगी तारों के साथ हाथ लगने के कारण बच्चा घायल हुआ है। छात्र का उपचार चला हुआ है। वह खतरे से बाहर है।

Related posts