उपभोक्ताओं को राशन डिपुओं में शहद, ग्लूकोज के साथ हींग और दंत मंजन भी मिलेगा

उपभोक्ताओं को राशन डिपुओं में शहद, ग्लूकोज के साथ हींग और दंत मंजन भी मिलेगा

शिमला
राशनकार्ड उपभोक्ताओं को यह सामान एमआरपी से 10 फीसदी कम रेट पर उपलब्ध होगा। यानी 100 रुपये की वस्तु 90 रुपये में उपलब्ध होगी। टाटा और डाबर कंपनी को सामान की लिस्ट भी जारी की गई है।

हिमाचल प्रदेश के राशन डिपुओं में अब शहद, ग्लूकोज से लेकर दंत मंजन और डाबर तेल सहित अन्य रोजमर्रा वस्तुएं उपलब्ध होंगी। खाद्य आपूर्ति निगम ने डाबर और टाटा कंपनी के अधिकारियों को रजिस्ट्रेशन के लिए पत्र जारी किया है। दोनों कंपनियों से सिक्योरिटी जमा करने की बात कही गई है। एक सप्ताह में इन्हें हिमाचल में रोजमर्रा की वस्तुएं उपलब्ध करवाने को कहा है।

राशनकार्ड उपभोक्ताओं को यह सामान एमआरपी से 10 फीसदी कम रेट पर उपलब्ध होगा। यानी 100 रुपये की वस्तु 90 रुपये में उपलब्ध होगी। टाटा और डाबर कंपनी को सामान की लिस्ट भी जारी की गई है।

डाबर कंपनी हिमाचल में ग्लूकोज, चूरण, हींग, रेड जैल, डाबर हनी, हाजमोला कैंडी, दंत मंजन, ट्रूथ ब्रश, डाबर तेल, कोको नेट की सप्लाई करेगी। टाटा कंपनी चाय और मसालों की सप्लाई करेगी। दोनों कंपनियों को आटा, सूजी की सप्लाई करने के लिए भी कहा गया है।

खाद्य आपूर्ति निगम का कहना है कि उपभोक्ताओं की मांग के मुताबिक कंपनियों से सामान मंगवाया जाएगा। उपभोक्ता डिपो होल्डर के पास जरूरत की वस्तुओं के नाम नोट करा सकेंगे। उल्लेखनीय है कि खाद्य आपूर्ति निगम ने बीओडी की बैठक में कंपनियों से सस्ता सामान उपलब्ध करवाने के फैसले को स्वीकृति दी थी। अब इसे निगम अधिकारियों की ओर से सिरे चढ़ाया जा रहा है।

उधर, खाद्य आपूर्ति मंत्री राजिंद्र गर्ग ने बताया कि बाजार मूल्य से सस्ता सामान उपलब्ध होने से उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी। कंपनियां एमआरपी से 10 फीसदी कम रेट पर सामान देने को तैयार हैं।

Related posts