आतंकी फंडिंग : जम्मू कश्मीर एसआईए का अनंतनाग-दिल्ली व हरियाणा में छापा, पहली बार राज्य के बाहर कार्रवाई

आतंकी फंडिंग : जम्मू कश्मीर एसआईए का अनंतनाग-दिल्ली व हरियाणा में छापा, पहली बार राज्य के बाहर कार्रवाई

जम्मू
आतंकी फंडिंग मामले में राज्य जांच एजेंसी (एसआईए) ने लश्कर मॉड्यूल से जुड़े ओजीडब्ल्यू के ठिकानों को खंगाला। मौके से मोबाइल, सिम, लैपटाप सहित अन्य दस्तावेज जब्त किए गए।

आतंकी फंडिंग मामले में राज्य जांच एजेंसी (एसआईए) ने पहली बार जम्मू-कश्मीर के बाहर कार्रवाई की है। रविवार को एसआईए ने अनंतनाग समेत दिल्ली और हरियाणा में छापेमारी की। टीमों ने दिल्ली में तीन जगहों, हरियाणा के फरीदाबाद में एक और दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में दो जगहों पर तलाशी ली।

छापेमारी कुछ वकीलों के आवासों पर हुई
कार्रवाई में दिल्ली, हरियाणा और जम्मू-कश्मीर पुलिस की टीमें भी साथ रहीं। सूत्रों के अनुसार छापेमारी कुछ वकीलों के आवासों पर हुई है, जिनको पाकिस्तान से लश्कर-ए ताइबा के जरिए फंड आता है। हाल ही में एसआईए ने श्रीनगर में आतंकी फंडिंग को लेकर केस दर्ज किया था।

आतंकी संगठन लश्कर पैसा जुटाकर भारत भेज रहा था
यह पता चला था कि आतंकी संगठन लश्कर पैसा जुटाकर भारत भेज रहा था, जिससे जम्मू-कश्मीर और देश के अन्य हिस्सों में आतंकवादी और अलगाववादी नेटवर्क, उनके कार्यक्रमों व गतिविधियों को चलाया जा सके। तकनीकी सबूतों और बैंकिंग लेनदेन से पता चला कि इसमें दिल्ली के तीन लोग, फरीदाबाद का एक और अनंतनाग के दो लोग साजिश में शामिल हैं।

पाकिस्तान में बैठे आकाओं से संपर्क
जिन लोगों के ठिकानों पर दबिश दी गई, वे पाकिस्तान में बैठे आतंकी आकाओं के संपर्क में थे। पुलिस ने जांच में इन लोगों के पास कुछ मोबाइल, सिम कार्ड और अन्य तरह के दस्तावेज बरामद किए हैं, जिनसे पता चलता है कि इनकी पाकिस्तान में बात होती है और ये लोग आतंकी फंडिंग में शामिल हैं।

साथ ही देश में अलगाववादी और आतंकी नेटवर्क को चलाने में काम कर रहे है। एसआईए की श्रीनगर इकाई ने इसे लेकर अनंतनाग में केस दर्ज किया था। उसी के सिलसिले में यह कार्रवाई की गई है।

Related posts