आतंकियों के सफाए में मदद करेगा ब्लैक पैंथर वाहन : डीजीपी दिगबाग सिंह

आतंकियों के सफाए में मदद करेगा ब्लैक पैंथर वाहन : डीजीपी दिगबाग सिंह

जम्मू
यूटी में आतंकवाद विरोधी अभियान में आधुनिक तकनीक से लैस आपरेशन कमांड वाहनों का प्रयोग किया जाएगा। इससे आतंकी वारदातों में जवानों को काफी सुविधा मिलेगी। यह बात पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने जिला पुलिस लाइन जम्मू में आयोजित एक फ्लैग ऑफ समारोह में कही। इस दौरान उन्होंने आधुनिक तकनीक और अतिरिक्त सुरक्षा सुविधाओं से लैस ऑपरेशन कमांड वाहन समर्पित किए। ब्लैक पैंथर्स नाम के इन वाहनों का उपयोग किया जाएगा।

नगरोटा एनकाउंटर का उदाहरण देते हुए डीजीपी ने कहा कि मुठभेड़ के दौरान इस्तेमाल किया गया कमांड व्हीकल आतंकवादियों को कुशलता से बेअसर करने में बेहद उपयोगी साबित हुआ। डीजीपी ने कहा कि हमारे समर्पित बल की दक्षता और क्षमताओं को बढ़ाने के लिए कश्मीर जोन के सभी रेंजों को वाहन उपलब्ध कराए गए हैं। जम्मू जिले को वाहन उपलब्ध करा दिए गए हैं।

आतंकवाद विरोधी अभियानों के संबंध में डीजीपी ने कहा कि आतंकवाद से लड़ना और जम्मू-कश्मीर में शांति और शांति सुनिश्चित करना एक सतत प्रक्रिया है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ दिनों में दक्षिण कश्मीर में एक के बाद एक सफल आतंकवाद विरोधी अभियान चलाए गए हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में शांति को मजबूत करने के लिए आतंकवाद विरोधी अभियान और अधिक तीव्रता के साथ जारी रहेगा

वाहनों में है अतिरिक्त सुरक्षा सुविधा
डीजीपी ने ऑपरेशन कमांड वाहनों का निरीक्षण किया जिन्हें अतिरिक्त सुरक्षा सुविधाओं और निगरानी प्रणालियों के साथ उन्नत किया गया है। इस अवसर पर डीजीपी को एडीजीपी मुख्यालय, पीएचक्यू और विशेषज्ञों की टीम द्वारा प्रभावशीलता बढ़ाने के लिए जोड़े गए विशेषताओं के बारे में जानकारी दी गई।

एसी वाहन, 15 कैमरे सुविधा
वाहन पूरी तरह से वातानुकूलित हैं। 14 सीसीटीवी कैमरे, पीटीजेड कैमरा, 360 डिग्री व्यू कैमरा, पब्लिक एड्रेस सिस्टम, फ्लैशलाइट, उन्नत चिकित्सा किट, पावर बैकअप और अन्य सुरक्षा प्रणालियों से लैस हैं।

सर्विलांस सस्टिम की मदद से गतिविधियों पर रखी जाएगी नजर
इन वाहनों में लगे सर्विलांस सिस्टम की मदद से हम किसी भी आपात स्थिति में काफी हद तक पूरे इलाके और आसपास की गतिविधियों पर नजर रखी जा सकेंगी। आतंकवादियों की तलाश कर उन्हें डेर किया जा सकेगा।

Related posts