अब मोबाइल बना पुलिस का सहारा

अंब (ऊना)। कलरूही मर्डर केस में स्थानीय महिला की ओर से किए खुलासे के बाद युवक को डीएनए रिपोर्ट में क्लीन चिट भले ही मिल गई है, लेकिन पुलिस ने अभी तक महिला के बयानों के आधार पर मामले की जांच को छोड़ा नहीं है। महिला का कहना है कि वारदात की रात युवक शादी समारोह में उसके साथ था, जिसके आधार पर अब पुलिस युवक के मोबाइल की 12 मार्च 2011 की कॉल डिटेल के साथ लोकेशन स्टेट्स की भी जांच करेगी। ऊना की अब तक की सबसे जटिल रेप एवं मर्डर मिस्ट्री के हल होने की उम्मीद पुलिस विभाग ने अभी छोड़ी नहीं है। जघन्य अपराध को अंजाम देने वाले आरोपी लगभग 11 माह से पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाए हैं।
वहीं बुद्धिजीवियों का कहना है कि हो न हो महिला ने पुलिस विभाग को गुमराह किया है तथा लोगों की भावनाओं से खेला है। यदि महिला की बातों में सच्चाई है तो उसके कथित पति के साथ साथ उसके दो दोस्तों का भी डीएनए टेस्ट होना चाहिए। एसपी रविंद्र शर्मा ने बताया कि पुलिस महिला के बयान के आधार पर अभी कई एंगल से मामले की छानबीन करेगी। युवक के मोबाइल रिकार्ड की भी गहनता से छानबीन की जाएगी। जिससे वारदात की रात उसकी लोकेशन का पता चल सके।

Related posts