अधर में वित्तीय अनियमितताओं की पड़ताल, एक फोटोकॉपी मशीन ने थाम दी एसआईटी जांच की रफ्तार

अधर में वित्तीय अनियमितताओं की पड़ताल, एक फोटोकॉपी मशीन ने थाम दी एसआईटी जांच की रफ्तार

उत्तरकाशी
उत्तरकाशी जिला पंचायत में वित्तीय अनियमितताओं की जांच नहीं पकड़ पा रही रफ्तार। एक फोटोकॉपी मशीन है विभाग में। 21 हजार पेज फोटोकापी की जानी है और 748 विकास कार्यों की होनी है जांच।

एक फोटोकॉपी मशीन ने एसआईटी जांच की रफ्तार थाम रखी है। वजह उसका खराब होना नहीं बल्कि उस पर काम का दबाव है। यही वजह है कि 748 विकास कार्यों की जांच के लिए विभाग दो साल में हुए कार्यों की 21 हजार पेज की सूची भी जांच टीम को मुहैया नहीं करा पा रहा है।

जिला पंचायत में करोड़ों की वित्तीय अनियमितता की शिकायत पर इसी साल 16 मार्च को डीआईजी सीबीसीआईडी एनएस नपलच्याल ने एसआईटी को चार अलग-अलग टीमों में बांट कर जांच की जिम्मेदारी दी थी, जिन्हें स्थलीय निरीक्षण भी करना था। तब जांच जल्द पूरी किए जाने की बात भी कही गई थी।

एसआईटी ने जिला पंचायत से बीते दो वर्षों में किए गए विकास कार्यों की सूची उपलब्ध कराने को कहा था, लेकिन पांच माह बाद भी जिला पंचायत सूची नहीं दे पाई। बताया जा रहा है कि जिला पंचायत के करीब 748 कार्यों की जांच होनी है। इन कार्यों के करीब 21 हजार से अधिक पेज हैं। जिला पंचायत के पास फोटो स्टेट मशीन एक ही है। इन पेजों की फोटोकॉपी कराने में समय लग रहा है।

जांच के लिए बनाई गई थी जंबो टीम
जिला पंचायत उत्तरकाशी में वित्तीय अनियमितताओं की जांच के लिए एसआईटी की जंबो टीम बनाई गई थी। पूर्व में सीबीसीआईडी के डीआईजी एनएस नपलच्याल टीम का नेतृत्व कर रहे थे। अब यह जिम्मेदारी डीआईजी पी रेणुका देवी को दी गई है। टीम में एसपी उत्तरकाशी, एसपी सीबीसीआईडी लोकजीत सिंह, सीओ बड़कोट सुरेंद्र सिंह भंडारी सहित चार एसआई व 8 कांस्टेबल भी शामिल किए गए थे। जांच के दौरान तकनीकी पक्ष के लिए एकाउंटेड, ऑडिटर व अभियंताओं को भी शामिल किए जाने की बात कही गई थी।

हमारे यहां से हर दिन पुलिस को दस्तावेज दिए जा रहे हैं। 748 विकास कार्यों की फाइल की फोटोकॉपी होनी है। जिला पंचायत में एक ही फोटो स्टेट मशीन है। इस कारण देर हो रही है।
-श्याम लाल, एएमए, जिला पंचायत उत्तरकाशी

जिला पंचायत से विकास कार्यों के दस्तावेज मांगे गए हैं। करीब 748 कार्यों के 21 हजार से अधिक पेज हैं। फोटोकॉपी करने में में समय लग रहा है। काम जल्द पूरा करने के प्रयास किए जा रहे हैं।
-अर्पण यदुवंशी, एसपी उत्तरकाशी

Related posts